2021 की सबसे बड़ी चोरी का कालकाजी पुलिस ने किया खुलासा

रिपोर्ट :- कशिश

नई दिल्ली :-कालकाजी इलाके में चोर ने उड़ाए करोड़ों के गहने। दुकान में काम करने वाला टेक्नीशियन ही बना चोर और साफ किया गहनों पर हाथ।

वारदात के समय शोरूम गेट पर पांच हथियारबंद सुरक्षा गार्ड तैनात थे लेकिन उन्हें इस चोरी की भनक तक ना लगी। कालकाजी दक्षिण पूर्वी जिले के पुलिस उपायुक्त राजेंद्र प्रसाद मीणा ने बताया कि फिलहाल शोरूम प्रबंधन की तरफ चोरी किए गए कुल आभूषणों और उनकी कीमत की जानकारी दी गई है। हालांकि शुरुआती जांच में सीसीटीवी फुटेज में एक चोर छत के रास्ते शोरूम में घुसते हुए दिखाई दिया है। शोरूम तीन मंजिला भवन में संचालित किया जा रहा है जिसमें सबसे ऊपरी मंजिल पर हीरा पहली पसंद है। भूतल पर चांदी के आभूषणों का सेक्शन है।

आपको बता दें कि सबसे हैरान कर देने बात यह है कि उस चोर ने पीपीई किट क्यों पहनी थी? वह इसलिए पहनी थी ताकि उसका हुलिया पूरी तरीके से बदल जाए और साथ ही उसका मास्क भी काफी अलग तरीके था । 11:30बजे इस वारदात को अंजाम दिया जब इस शख्स ने दुकान से दूर तो घर में सारी तैयारियां करके रखिए और उसकी छात्र ऐलान कर वह शोरूम में पहुंचा और बड़े शातिर तरीके से कटिंग सिलेंडर सब कुछ किया और उसके बाद चोरों के भीतर चला गया उसे इस वारदात को अंजाम दिया।

वहीं पुलिस का कहना है कि यह 2021 की सबसे बड़ी चोरी है जिसका उन्होंने खुलासा कर दिया है लेकिन उनके लिए यह बहुत बड़ी चुनौती पूर्ण केस रहा है क्योंकि चोर का अपने आप को पूरी तरीके से पीपीई गेट में ढकना काफी ज्यादा चुनौतीपूर्ण था।

बुधवार सुबह 11:00 बजे शोरूम के मैनेजर ने पुलिस को फोन करके चोरी की जानकारी दी थी शोरूम से पूरे 20 करोड़ के सोने के आभूषण पर ही हाथ साफ किया गया था। पुलिस की तरफ से बताया गया कि सीसीटीवी की फुटेज की जांच से पता चला कि बगल में स्थित एक पेंटर देने की छत पर चोर मंगलवार रात 9:30 बजे ही चढ़कर छिप गया था।

अब पुलिस ने चोर को गिरफ्तार कर लिया है और उससे यह भी मालूम चला कि यह चोरी सीखने के लिए उसने यूट्यूब पर काफी तरह की वीडियो देखी जिससे उसने यह सब सिखा।
आपको बता दें कि चोर कितना भी शातिर क्यों ना हो लेकिन अपने निशान छोड़ ही जाता है वही मैंने पुलिस ने गिरफ्तारी पर समय रहते ही कर ली। बहुत बड़ी सफलता हाथ लगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three + 5 =