हमारे बच्चे खुलकर अपनी प्रतिभा निखारे, पंजाब सरकार कभी संसाधनों की कमी नहीं होने देगी-भगवंत मान

रिपोर्ट :-नीरज अवस्थी

पंजाब :-दिल्ली के बाद केजरीवाल सरकार की शिक्षा क्रांति अब पंजाब में भी पहुँच चुकी है।अपनी शिक्षा व्यवस्था को केजरीवाल सरकार के दिल्ली एजुकेशन मॉडल की तरह हर तबके के लिए सुलभ और विश्वस्तरीय बनाने की दिशा में पंजाब की भगवंत मान सरकार युद्धस्तर पर काम कर रही है| इसी दिशा में शनिवार को पंजाब सरकार के स्कूलों में दिल्ली के तर्ज पर पहली बार मेगा पीटीएम का आयोजन किया गया। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने पंजाब के मुख्यमंत्री श्री भगवंत मान व शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस के साथ शनिवार को पंजाब सरकार के पटियाला स्थित गवर्मेंट सीनियर सेकंड्री स्मार्ट स्कूल,मॉडल टाउन, एक स्कूल के मेगा पीटीएम में शिरकत की और वहां मौजूद अभिभावकों से बच्चों के पढ़ाई को लेकर चर्चा की।

इस मौके पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के तर्ज पर पंजाब सरकार के स्कूलों में आयोजित हो रहे मेगा पीटीएम का उद्देश्य अभिभावकों को स्कूल के साथ जोड़ना है क्योंकि वे बच्चों की लर्निंग में बेहद अहम् भागीदार होते है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सरकार के आने के बाद हमने अपने स्कूलों में मेगा पीटीएम का आयोजन किया, पीटीएम में पेरेंट्स का स्वागत किया गया।वो अनुभव पेरेंट्स के लिए बेहद उत्साहवर्धक था कि जहाँ कुछ समय पहले तक पेरेंट्स को स्कूल में केवल शिकायत करने के लिए बुलाया जाता था वहीँ अब न केवल उनका स्कूल में बेहद अच्छे ढंग से स्वागत किया जा रहा था बल्कि शिक्षक उनके साथ उनके बच्चों के सीखने के स्तर को और बेहतर बनाने के स्ट्रेटेजी पर चर्चा कर रहे थे, पेरेंट्स से सुझाव मांग रहे थे। उन्होंने कहा कि इसका पेरेंट्स के ऊपर सकारात्मक प्रभाव हुआ और वो अपने बच्चों के सीखने-सीखने की प्रक्रिया में और ज्यादा सक्रिय रूप से भूमिका निभाने लगे। इससे न केवल बच्चों के व्यवहार में परिवर्तन आया बल्कि उनके नतीजे भी शानदार आने लगे।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि पंजाब में शिक्षा क्रांति की शुरुआत हो चुकी है।यह बहुत ख़ुशी और गौरवान्वित करने वाला पल है कि यहाँ के सभी सरकारी स्कूलों में शिक्षक व अभिभावक साथ मिलकर बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए पहली बार मेगा पीटीएम में भाग ले रहे है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार के स्कूलों में आयोजित हो रहा ये मेगा पीटीएम यह सुनिश्चित करेगा कि शिक्षक व छात्रों के साथ अभिभावकों का योगदान भी पंजाब की शिक्षा व्यवस्था को दिल्ली के समान विश्वस्तरीय बनाएगा।

सिसोदिया ने कहा कि, “मुझे गर्व है कि पंजाब के पेरेंट्स में अपने बच्चों की शिक्षा के प्रति एक नया आत्मविश्वास दिख रहा है। मेगा पीटीएम के लिए जो उत्साह और उत्सुकता आज से कुछ साल पहले मैंने दिल्ली के पेरेंट्स में देखा था आज वही उत्साह मुझे पंजाब सरकार के स्कूलों में आयोजित मेगा पीटीएम में आए पेरेंट्स में दिखी। उन्होंने कहा कि अब पंजाब सरकार के स्कूलों में पढने वाले बच्चों के पेरेंट्स को इस बात को लेकर पूरा विश्वास है कि यहाँ भगवंत मान सरकार के स्कूलों में उनके बच्चों का भविष्य सुरक्षित है।

उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने कहा कि मेरे दिमाग में एक ही सपना घूमता है की कैसे हम देश के सरकारी स्कूलों को इतना शानदार बना दे की उसमे पढ़ने वाला हर एक बच्चा प्राइवेट स्कूलों से शानदार शिक्षा ग्रहण कर पाए।उन्होंने वहां के उपस्थित लोगों को धन्यवाद् देते हुए कहा कि आप सभी ने आम आदमी पार्टी के लोगों को जिताया और आज पूरे पंजाब अंदर शिक्षा क्रांति हो रही है। सिसोदिया ने कहा कि अगर पंजाब के एक सरकारी स्कूल शानदार हो सकता है तो बाकी के 20 हजार भी सरकारी स्कूल शानदार हो सकते है।

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि आज देश के अंदर लोग 12-12 घंटे काम करने का बाद भी खुद के लिए पैसे नहीं बचा पा रहे है। उन्होंने कहा कि आज 2 जगह पर आम आदमी पार्टी की सरकार है और वहां हम बिजली बिल जीरो और बच्चों को प्राइवेट स्कूल से भी शानदार शिक्षा मुहैया करा कर लोगों को राहत देने का काम कर रहे है।उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि आज हमारे स्कूलों में पढने वाले बच्चे बड़े सपने देख रहे है और उनको पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे है। उन्होंने कहा कि हमारे स्कूलन में पढने वाले बच्चे खुलकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करे उनके सपनो को पूरा करने में कभी भी संसाधनों की कमी नहीं होगी।

पंजाब के शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने कहा कि अरविंद केजरीवाल जी का एक ही सपना है कि इस देश को दुनिया का नंबर.1 देश बनाना है। उन्होंने कहा कि अगर हमें भारत को दुनिया का नंबर.1 देश बनाना है तो उसकी शुरुआत देश के स्कूलों को शानदार बना के ही किया जा सकता है। बैंस ने कहा कि हम सभी ने दिल्ली के स्कूलों को शानदार होते देखा है अब पंजाब की स्कूलों की बारी है उन्होंने कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता है की पूरे पंजाब के सभी 20 हजार सरकारी स्कूलों शानदार बनाना है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + 14 =