सीएम अरविंद केजरीवाल ने एनसीसी डीजी लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह के निमंत्रण पर गणतंत्र दिवस शिविर – 2023 का किया दौरा

रिपोर्ट :-नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर-2023 में बातौर मुख्य अतिथि शामिल हुए और समाज में एनसीसी के अपार योगदान की सराहना की। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम एक राष्ट्र के रूप में सामाजिक और आर्थिक रूप से तभी आगे बढ़ेंगे, जब हम ‘राष्ट्र प्रथम’ की विचारधारा में विश्वास करेंगे। आप समाज के पथप्रदर्शक बनें और अपने अच्छे काम को जारी रखें, जिससे कि आने वाली पीढ़ियां आपके गुण और जोश का अनुसरण करे। एनसीसी कैंप वास्तव में हमारे देश की एक छोटी सी दुनिया है, जिसमें हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश के कैडेटों का प्रतिनिधित्व है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि दिल्ली सरकार ने हमेशा एनसीसी के विकास को प्रोत्साहित किया है और जहां भी जरूरत पड़ी है, मदद के लिए आगे रही है।

दिल्ली छावनी में आज राष्ट्रीय कैडेट कोर की तरफ से गणतंत्र दिवस शिविर- 2023 का आयोजन किया गया। इस शिविर में सीएम अरविंद केजरीवाल बातौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे। इस अवसर पर राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस दौरान सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने एनसीसी आरडी कैंप में आयोजित विभिन्न गतिविधियों को देखा। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल को गेट नंबर-1 करियप्पा परेड ग्राउंड और एकता द्वार के जरिए एनसीसी कैंप क्षेत्र तक पायलट किया गया और डीजी एनसीसी द्वारा सीएम की अगवानी की गई। सबसे पहले सीएम अरविंद केजरीवाल को गार्ड ऑफ ऑनर से सलामी दी गई। सलामी के बाद, मुख्यमंत्री ने डीजी एनसीसी के साथ गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया। सीएम ने एनसीसी बैंड द्वारा प्रस्तुत बैंड का आनंद लिया। इसके बाद, सीएम श्री अरविंद केजरीवाल फ्लैग एरिया का दौरा किए। यह फ्लैग एरिया 17 राज्य एनसीसी निदेशालयों द्वारा प्रस्तुत विभिन्न विषयों का प्रतिनिधित्व करता है। इसके बाद उन्होंने ‘हॉल ऑफ फेम’ का दौरा किए और ऑडोटोरियम में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम को देखा। इस कार्यक्रम का समापन एनसीसी गीत की प्रस्तुति के साथ हुआ। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कैडेट्स के साथ बातचीत की। अंत में मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया और कैडेटों के साथ ग्रुप फोटो हुआ।

इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने एनसीसी को 75 वर्ष पूरे करने पर बधाई देते हुए कहा कि एनसीसी की इस यात्रा का हर कदम समृद्ध विरासत और परंपरा से ओत-प्रोत रहा है। एनसीसी ने हमारे देश के साथ-साथ खुद को विकसित और रूपांतरित किया है। सीएम ने कहा कि आज आप सभी के साथ समय साझा करके मुझे बहुत खुशी हो रही है। आपका प्रशिक्षण, आपको अनुशासन, भाईचारा, एक धर्मनिरपेक्ष दृष्टिकोण, साहस की भावना और आप के अंदर समाज के लिए निःस्वार्थ सेवा के आदर्शों के साथ आत्मसात करता है। वर्तमान में हमारे देश को इन मूल्यों की बहुत जरूरत है। मैं इस बात से आश्वस्त हूं कि एनसीसी द्वारा हमारे युवाओं को देश के एक जिम्मेदार, सामाजिक रूप से जागरूक और अनुशासित नागरिक बनने के लिए तैयार किया जा रहा है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि आप सभी ने कठिन चयन प्रक्रिया के बाद इस कार्यक्रम में भाग लिया है। मुझे विश्वास है कि इस शिविर से आप सभी की अच्छी यादें जुड़ी होंगी। मैं आप सभी से अनुरोध करता हूं कि एनसीसी के आदर्शों को हमेशा याद रखें। चाहे आप कोई भी रास्ता अपनाएं या भाग्य आपके लिए कुछ भी चुने। मैं ऐसा इसलिए कहता हूं, क्योंकि एक नागरिक के रूप में हमें हमेशा ‘राष्ट्र प्रथम’ की विचारधारा में विश्वास करना चाहिए और इसके लिए जिम्मेदार और प्रतिबद्ध होना चाहिए। तभी हम एक राष्ट्र के रूप में सामाजिक और आर्थिक रूप से प्रगति कर सकेंगे। आप सभी के सामने एनसीसी के कई पूर्व छात्रों के उदाहरण हैं, जो लोक सेवकों और नेताओं के रूप में विभिन्न क्षमताओं के साथ देश की सेवा कर रहे हैं। मुझे यह जानकर प्रसन्नता हुई कि पिछले वर्ष शुरू किया गया एनसीसी पूर्व छात्रों का नेटवर्क मजबूत हुआ है। एनसीसी को मजबूत बनाने के लिए हमें इस भवन का निर्माण जारी रखना है। दिल्ली सरकार ने हमेशा एनसीसी के विकास को प्रोत्साहित किया है और जहां भी आवश्यकता पड़ी है, मदद के लिए आगे रही है। हम आगे भी मदद करते रहेंगे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि समाज के प्रति उत्कृष्ट योगदान देने को लेकर आप सबकी अधिक रुचि को देखकर मैं आपका बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय के दौरान आपके उत्कृष्ट योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। आप सभी के द्वारा हाल ही में पुनीत सागर की पहल सराहनीय है। हमारे जल निकायों, नदियों और समुद्र तटों को प्लास्टिक कचरे से मुक्त करने के लिए आप सभी द्वारा उठाया गया यह सराहनीय कदम है। मुझे यह जानकर बहुत खुशी हुई कि हमारे एनसीसी कैडेट देश की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष के जश्न में हमारे शहीदों का सम्मान करने में सबसे रहे हैं।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एनसीसी आरडीसी कैंप वास्तव में हमारे देश की एक छोटी सी दुनिया जगत है, जिसमें हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के कैडेटों का प्रतिनिधित्व होता है। इसलिए, यह कहा जा सकता है कि एनसीसी आरडीसी कैंप हमारी विविध संस्कृतियों और परंपराओं की विविधता लेकिन एकता का एक अच्छा उदाहरण भी प्रस्तुत करता है। आप सभी को इस बात पर गर्व होना चाहिए। परेड के दौरान ड्रिल और स्मार्ट टर्नआउट का शानदार प्रदर्शन करने के लिए मैं बधाई देता हूं। मैं उन कैडेटों को भी बधाई देता हूं जिन्होंने आज अपने शानदार नृत्य प्रदर्शन से हम सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। मैं आप सभी को बेहतर जीवन के लिए शुभकामनाएं देता हूं और आग्रह करता हूं कि आप हमारे समाज के पथप्रदर्शक बनें और अपने अच्छे काम को जारी रखें, ताकि आने वाली पीढ़ियां आपका अनुसरण करें।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कार्यक्रम की जानकारी साझा करते हुए कहा, ‘‘माननीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने आज दिल्ली कैंट स्थित एनसीसी गणतंत्र दिवस परेड शिविर का दौरा किया। अपने संबोधन में माननीय मुख्यमंत्री जी ने देश के युवाओं के दृष्टिकोण में बदलाव लाने की दिशा में एनसीसी के अथक प्रयासों की सराहना की।’’

एनसीसी आरडीसी के बारे में एक नजर

एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर हर साल दिल्ली कैंट स्थित करियप्पा परेड ग्राउंड में आयोजित किया जाता है। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कुल 2155 कैडेट शिविर में भाग ले रहे हैं। इसके अलावा, मित्र देशों (अर्जेंटीना, ब्राजील, फिजी, कजाकिस्तान, किर्गिज गणराज्य, मंगोलिया, मॉरीशस, मालदीव, मोजाम्बिक, नेपाल, न्यूजीलैंड, रूस, सेशेल्स, सूडान, ताजिकिस्तान, यूके, यूएसए, उज्बेकिस्तान और वियतनाम) से 32 अधिकारी और 166 कैडेट एनसीसी के अतिथि के रूप में 15 से 29 जनवरी तक गणतंत्र दिवस शिविर में भाग लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × two =