दिल्ली में सर्दी का सितम लगातार बढ़ रहा है, NGO के द्वारा बनवाए जा रहे हैं रैन बसेरे

रिपोर्ट :-कशिश

नई दिल्ली :-दक्षिण दिल्ली में SPYM एनजीओ द्वारा बेघर लोगों के लिए महरौली इलाके में लगाया गया रैन बसेरा। गैर सरकारी संगठन ने दस बेड का रैन बसेरा बनवाया हैं।

राजधानी में सर्दी का सितम शुरू हो चुका है और इस सर्दी की मार उन लोगों पर पड़ती है जिनके सिर पर छत नहीं होती है. वे सर्दी से बचने के लिए झाड़ियो, फ्लाईओवर के नीचे रहने को मजबूर हो जाते हैं, लेकिन सर्दी तो सर्दी है। फ्लाईओवर के नीचे सर्दी से कुछ राहत तो मिलती है, लेकिन पूरी तरह नहीं। ऐसे मे इन बेघर लोगों के लिए सरकार के साथ-साथ कई एनजीओ भी सामने आए हैं जो इन देवघर लोगों की लगातार मदद करते हुए दिखाई दे रहे हैं । जगह-जगह रैन बसेरा का निर्माण कराए जा रहे हैं। जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को सर्दी से बचाया जा सके।

SPYM एनजीओ ने महरौली इलाके में 10  बेड का  बनाया गया है रेन बसेरा  जिसमें  वहां आसपास काम करने वाले लोग  रात में  है ठहरते हैं। इसमें गद्दे, कंबल और तकियों की व्यवस्था भी की गई है। साथ ही कोविड से बचने के लिए मास्क, सैनिटाइजर के इंतजाम भी किए गए हैं। यहां रहने वाले लोगों के लिए रात के समय के भोजन की भी व्यवस्था की गई है।

अगर मौत के आंकड़ों की बात की जाए तो बढ़ती सर्दी के कारण बेघर लोगों की जान भी चली जाती है। क्योंकि उनके पास रहने के लिए घर नहीं होता है और सर्दी का सितम लगातार बढ़ता रहता है। वहीं सरकार तो अपना काम कर ही रही है लेकिन अब अलग-अलग एनजीओ भी सामने आ रहे हैं। जो इन बेघर लोगों की लगातार मदद कर रहे हैं और उनको इसी तरह के रैन बसेरे देने का प्रयास भी कर रहे हैं। जिसकी वजह से लोगों को फ्लाईओवर या झाड़ियों में ठंड से बचकर ना रहना पड़े और पूरी सुविधाओं के साथ जागरण कब गद्दे, बेड इत्यादि हो ऐसी सुविधाएं उनको दी जा रही है।

सर्दी से बचने के लिए इसी तरह के रैन बसेरों से ही लोगों को ठंड से राहत मिलेगी। क्योंकि यहां पर सरकार एवं अलग-अलग एनजीओ के द्वारा पूरी ही तरीके की सुविधाएं दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − eleven =