शराब नीति में भ्रष्टाचार के चलते सरकारी खजाने में एक्साईज ड्यूटी और राजस्व में हुए हजारों करोड़ के नुकसान के लिए केजरीवाल-सिसोदिया जिम्मेदारी लें

रिपोर्ट :-नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ.अनिल कुमार ने 4 सितम्बर, 2022 को महंगाई के खिलाफ होने वाली रैली के आयोजन की तैयारियां के लिए आज ‘‘चलो रामलीला मैदान’’ नारे के साथ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में ली। कार्यकारिणी की बैठक में देश सहित दिल्ली भर में बढ़ती महंगाई पर चर्चा हुई। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी आसमान छूती महंगाई, बेरोजगारी व मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ लगातार लड़ रही है।

चौ.अनिल कुमार ने कहा कि हमारे प्रिय नेता श्री राहुल की अध्यक्षता में 4 सितम्बर को रामलीला मैदान, दिल्ली में होने वाली महंगाई पर हल्ला बोल रैली में सभी वरिष्ठ नेता, सांसद, विधायक, सभी प्रदेशों से संगठन पदाधिकारी व कांग्रेस कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे। हल्ला बोल रैली की तैयारियों के लिए दिल्ली कांग्रेस जिलावार चौपाल में आयोजित कर महंगाई पर चर्चा की जा रही है, मोदी सरकार की जन विरोधी नीतियों और महंगाई से संबधित पम्पलेट बाजारों में विक्रेताओं व ग्राहकों से चर्चा करके बांटे जा रहे है और स्थानीय लोगों के साथ महंगाई पर चर्चा की जा रही है। महंगाई के कारण बदहाल हो चुकी लोगों की आर्थिक दुर्दशा पर भी चर्चा कांग्रेस कार्यकर्ता कर रहे है।

बैठक में प्रदेश अध्यक्ष चौ.अनिल कुमार के अलावा पूर्व केन्द्रीय मंत्री जगदीश टाईटलर, कृष्णा तीरथ, पूर्व सांसद डा.उदित राज, रमेश कुमार और जे.के. जैन, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री डा. नरेन्द्र नाथ और रमाकांत गोस्वामी, कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज, कोषाध्यक्ष संदीप गोस्वामी, पूर्व विधायक विजय लोचव, हरी शंकर गुप्ता, अमरीश गौतम, वीर सिंह धींगान, दर्शना रामकुमार, प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन, दिल्ली प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय सिंह लोचव, प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल और अली मेंहदी, डा. नरेश कुमार, कम्युनिकेशन विभाग के वाईस चेयरमैन परवेज आलम और अनुज आत्रेय भी मौजूद थे।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि जब दिल्ली में लागू शराब नीति में भ्रष्टाचार उजागर हो चुका है और सीबीआई जांच में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर आरोप साबित हो चुके है तब केन्द्र सरकार का गृहमंत्रालय शराब मंत्री के आदेश पर निर्णय लेने वाले अधिकारियों को सस्पेंड कर रही है, अभी तक मनीष सिसोदिया को जेल क्यों नही भेजा गया? भाजपा और आम आदमी पार्टी शराब घोटाले में एक धारा में चोर-चोर मौसरे भाई की तरह चल रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने मांग की अरविन्द केजरीवाल तुरंत प्रभाव से मनीष सिसोदिया का इस्तीफा लें क्योकि सारे सबूतों और एफआईआर से यह सिद्ध हो गया है कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने शराब नीति में करोड़ों रुपये का भ्रष्टाचार किया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने शराब माफिया को लाईसेंस फीस में 144 करोड़ रुपये की छूट दी तथा नई पॉलिसी के लागू होने के बाद सरकार को 3000 करोड़ रुपये एक्साईज़ ड्यूटी और 3500 करोड़ रुपये का राजस्व में नुकसान हुआ जिसके लिए अरविन्द केजरीवाल जिम्मेदार है।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि मोदी सरकार के 8 वर्षां के कार्यकाल में देशवासियों पर महंगाई और बेरोजगारी की दोहरी मार पड़ी है। महंगाई देशभर में इस कदर हावी हो चुकी है कि देश की 80 प्रतिशत जनसंख्या को अपनी अजीविका के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गांधी जी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी इस कठिन समय में देश की जनता के साथ खड़ी है तथा महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ हम सड़क से संसद तक देशवासियां को अच्छी जीवन शैली देने और परिपक्व अजीविका पालन की सुरक्षा के लिए लड़ाई लड़ रहे है।

चौ.अनिल कुमार ने कहा कि मोदी शासन में व्यक्ति से जुड़ी ऐसी कोई चीज नही जिसके दाम दोगुने से अधिक न बढ़े हो। निरंकुश भाजपा के मोदी प्रशासन की विफल आर्थिक नीतियों के कारण देश में महंगाई रिकार्ड स्तर पर पहुॅच गई और पिछले 14 महीनों में महंगाई दोहरे अंकों में है। पेट्रोल, डीजल, सीएनजी, पीएनजी एवं रसोई गैस से लेकर अनाज, दाल, खाद्य तेल जैसी जरुरी चीजों की कीमते आसमान छू रही है। मोदी सरकार द्वारा आटा, चावल, दही, दूध पनीर, शहद आदि जिन पर जीवन शैली निर्भर है, इन रोजमर्रा की वस्तुओं पर जीएसटी लगाने से यह गरीब लोगों की पहुच से बाहर हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि सरकार रोजमर्रा की वस्तुओं की दरें बढ़ाकर और जीएसटी लगाकर महंगाई की दोहरी मार कर रही है।

चौ.अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा की युवा विरोधी नीति के कारण आज देश में बेरोजगारी ने 45 वर्षां के रिकार्ड तोड़ दिए है। सत्ता में आने से पूर्व जहां 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि देश में करोड़ों लोग बेरोजगार है जबकि केन्द्र सरकार के विभागों में ही करीब 10 लाख पद खाली पड़ी है परंतु युवाओं को रोजगार देने की जगह मोदी सरकार अग्निपथ जैसी योजना लागू करके युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकारी की गलत आर्थिक नीतियों की वजह से पिछले कुछ वर्षों में लगभग 14 करोड़ लोग बेरोजगार हुए जबकि आज 20-24 आयु वर्ग के 42 प्रतिशत युवा शिक्षित होने के बावजूद बेरोजगार बैठे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + 16 =