वेटरनरी फार्मासिस्ट को 5 माह से नही मिली तनख्वाह


रिपोर्ट:- कुलजीत सिंह

जंडियाला गुरु:-पशु पालन विभाग में बतौर ठेके पर काम कर रहे वेटरनरी फार्मासिस्ट गत 5 माह से बिना तनख्वाह के विभाग में काम करते आ रहे हैं ।उन्होंने कहा कि क्रोना जैसी म्हांमारी में भी बिना तनख्वाह के विभाग में काम कर सरकार को यह बता दिया कि रूरल वेटरनरी फार्मासिस्ट हर बुरे वक्त में विभाग के साथ खड़ा है ।पर विभाग और सरकार हर समय फार्मासिस्ट के साथ धक्केशाही करती आई है ।अपनी अहम मांगों को पूरा कराने के लिए पूरे पंजाब में रुरल वेटरनरी फार्मासिस्ट द्वारा विभाग की मूंह खुर वैक्सीन और ए आई ई मन्सूई गर्भधारण के बाइकाट पिछले तकरीबन एक माह से किया हुआ है।

अमृतसर जिले की मीटिंग में बातचीत करते हुए अमृतसर जिला प्रधान हरप्रीत सिंह ,महासचिव सिमरनजीत सिंह ,वाईस प्रधान गुरविंदर सिंह रियाड़ ,और मुख्य सलाहकार सतनाम सिंह ने सांझे बयान मे बताया। कि हम पिछले 14 वर्ष से नौकरियों को पक्का कराने के लिए सँगर्ष कर रहे हैं। और साथ ही विभाग के सभी एहम काम जैसे कि वैक्सीन ,के आई ,ओ पी डी ,एक्स्ट्रा चार्ज ,जैसी कई ड्यूटी निभा रहे है।
यहाँ तक कि क्रोना म्हांमारी में भी सिर्फ 9000 रुपये प्रतिमाह तनख्वाह पर विभाग को पूरा सहयोग दिया बावजूद इसके विभाग हमारा शोषण करने से बाज़ नही।आ रहा।

जिसके चलते मजबूरन हमने वेक्सीन के साथ साथ भी ए आई का बाइकाट करीब 1 माह पहले विभाग के डायरेक्टर को।दिया था ।यह हमारा बाइकाट तब तक जारी रहेगा जब तक इसका कोई स्थाई हल नही निकाला जाता ।इस मौके पर तलविंदर सिंह ,बलजिंदर सिंह सोहल ,काबल सिंह थोबा ,तहसील प्रधान सरबजीत सिंह,कंवलजीत सिंह ,और मनप्रीत सिंह हाज़िर थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − nine =