वसंत उत्सव चेहरे पर मुस्कराहट लाने का उत्सव, ये उत्सव अहसास दिलाता है कि हम मुश्किल के दौर से बाहर आ चुके है: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली:-केजरीवाल सरकार द्वारा हिंदी अकादमी के सौजन्य से रविवार को वेस्ट विनोद नगर के बद्रीनाथ पार्क ‘वसंत उत्सव’ के तहत सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि वसंत उत्सव चेहरे पर मुस्कराहट लाने का उत्सव है।कोरोना के मुश्किल दौर से निकलने के बाद अब जब जिन्दगी दोबारा पटरी पर लौटने लगी है तो वसंत उत्सव के साथ उसका स्वागत करने से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता है उन्होंने कहा कि ये उत्सव अहसास दिलाता है कि हम मुश्किल के दौर से बाहर आ चुके है।

श्री सिसोदिया ने कहा कि कोरोना के लम्बे समय बाद जब सब सामान्य हो रहा है, मुश्किल दौर से निकल कर लोग मुस्कुराना चाहते है रंगों में डूब जाना चाहते है , तो मैं भगवन से प्रार्थना करता हूँ कि सभी दिल्लीवासी-देशवासियों के चेहरे पर ये मुस्कान ऐसी ही बनी रहे और हमें दोबारा ऐसे संकट का सामना न करना पड़े।उन्होंने कहा कि पटपड़गंज के इस पार्क में पूरे देश की संस्कृतियों का सम्मिश्रण देखने को मिलता है जहाँ सभी समाज के लोग चाहे वो उत्तराखंड से हो, बिहार, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश या देश के किसी अन्य राज्य से हो सभी साथ मिलकर उत्सवों को मनाते है इसी सांस्कृतिक सम्मिश्रण का नतीजा है कि यहां मंच पर उत्तराखंडी कलाकर भोजपुरी के लोकगीत तो भोजपुरी कलाकार उत्तराखंड के लोकगीत गाने लगते है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली की जनता ने हमपर विश्वास दिखाया जिसके दम पर पिछले 7 सालों में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली की तरक्की के लिए दिन रात काम किया है ताकि दिल्ली की जनता को बेहतर से बेहतर सुविधाएं मिल सके हमने अस्पताल, बिजली-पानी से लेकर गलियों व जनहित के वह सभी काम किए जो पिछली सरकारें आजादी के 70 सालों तक नहीं कर पाई।आज दिल्ली सरकार के स्कूल इतने शानदार हो गए है कि देशभर के मंत्री अपने राज्यों के लिए दिल्ली के स्कूलों से सीखने आ रहे है ये सब जनता के वोट की ताकत ही है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्त्व में लोगों ने दिल्ली में एक जिम्मेदार सरकार को चुना और हमें जो भी जिम्मेदारी मिली उसे बखूबी निभाया है और जनता के समर्थन के साथ पूरी ईमानदारी के साथ आगे अन्य जिम्मेदारियां भी निभाएंगे।

उल्लेखनीय है कि प्रसिद्ध कलाकार मुकेश कठेत व अंजु झा ने अपने कलाकार साथियों की मदद से उत्तराखंड तथा भोजपुरी के गीत, संगीत व नृत्य द्वारा कार्यक्रम में वसंत के रंगों का संचार कर दिया। इस अवसर, गढ़वाली, कुमाऊँनी एवं जौनसारी अकादमी के सचिव जीतराम भट्ट, उपाध्यक्ष श्री एम. एस. रावत, सामाजिक कार्यकर्ता श्री कुलदीप सिंह भंडारी, उत्तराखंड प्रकोष्ठ के प्रभारी श्री हरीश अवस्थी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + eleven =