लाजपत नगर के नेशनल पार्क में मनाएगा लोहड़ी का पर्व, पहुंचे विधायक सभी ने एक-दूसरे को दी शुभकामनाएं

रिपोर्ट :-सोनम मिश्रा

नई दिल्ली :-13 जनवरी को पंजाब व हरियाणा समेत उत्तर भारत समेत के कई बड़े क्षेत्रों में लोहड़ी का त्योहार बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। लोहड़ी के दिन दोस्तों और रिश्तेदारों को बधाइयां और मिठाई भेजे जाती है इस त्योहार को मनाने के लिए खुली जगह पर आग लगाई जाती है और नृत्य करते हुए गीत गाए जाते हैं और फिर पवित्र अग्नि में मूंगफली, गजक, तिल आदि डालकर परिक्रमा की जाती है।

दिल्ली के कस्तूरबा नगर विधानसभा क्षेत्र के लाजपत नगर सेंट्रल पार्क में बड़ी धूमधाम के साथ लोहड़ी का पर्व मनाया गया सैकड़ों की संख्या में स्थानीय लोग भी शामिल हुए सभी ने लोहड़ी के त्यौहार की एक दूसरे को बधाई और शुभकामनाएं भी वही गानों पर नृत्य किया वहीं लोहड़ी के इस कार्यक्रम में कस्तूरबा नगर के विधायक मदनलाल पहुंचे वहीं इस लोहड़ी के कार्यक्रम का अयोजन लाजपत नगर एसोसिएशन के चेयरमैन नरेश जुड़ेगा के द्वारा किया गया विधायक मदन लाल ने लोहड़ी के इस महापर्व की सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि यह महापर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ आपसी भाईचारे का पर्व हैं।

स्थानीय निवासी एचएस गुलाटी ने बताया कि पंजाब में लोहड़ी के साथ दुल्ला भट्टी की कहानी भी जुड़ी हुई है। इस दिन पंजाबी लोग अग्नि जलाकर परंपरागत रूप से भांगड़ा करते हैं। भांगड़ा के दौरान गीत गाते हैं और दुल्ला भट्टी की प्रशंसा गायन भी करते हैं। दरअसल दुल्ला भट्टी गरीब लोगों की मदद करता था। एक बार उन्होंने दो अनाथ बहनों को उनके चाचा से बचाया था, जिसने उनको जमीदारों को बेच दिया था। दुल्ला भट्टी ने लोहड़ी की रात दोनों बहनों की शादी करवा दी और एक सेर शक्कर उनकी झोली में डालकर विदाई कर दी। मान्यता है कि इस घटना के कारण भी लोग लोहड़ी का पर्व मनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + 8 =