भाजपा हमले वाली राजनीति करती रहे, अरविंद केजरीवाल सेवा वाली राजनीति करते रहेंगे- मनीष सिसोदिया

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली:-भाजपा की तरफ से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आज किए गए हमले पर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के मॉडल को देश भर में सभी धर्म-जाति के लोगों का समर्थन मिल रहा है। इसी बौखलाहट में भाजपा ने मुख्यमंत्री पर हमला करवाया। अरविंद केजरीवाल की सच्ची देशभक्ति, ईमानदार और इंसानियत वाली राजनीति को देशवासियों से भारी समर्थन मिल रहा है। जब से आम आदमी पार्टी की पंजाब में सरकार बनी है, तब से भाजपा बौखला गई है। उसे इस बात की बौखलाहट है कि अरविंद केजरीवाल को देश के सभी जाति-धर्म के लोगों का समर्थन मिल रहा है। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली और पंजाब में भाजपा, अरविंद केजरीवाल से लड़ी और जनता ने अरविंद केजरीवाल को चुना। इससे भाजपा के अंदर असुरक्षा का भाव आ गया है। भाजपा को लग गया है कि अरविंद केजरीवाल की सच्ची देशभक्ति और ईमानदार राजनीति की अब देशभर में चर्चा हो रही है। भाजपा ने अरविंद केजरीवाल पर नहीं, देश की जनता पर हमला किया है और जनता इसका मुंहतोड़ जवाब देगी। भाजपा हमले वाली राजनीति करती रहे। अरविंद केजरीवाल सेवा वाली राजनीति करते रहेंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर हुए हमले को लेकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता कर इसकी कड़ी निंदा की। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने भाजपा के नापाक हरकतों का पर्दाफाश करते हुए कहा कि आज भाजपा के गुंडे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर तक पहुंच गए और सुरक्षा में लगे सीसीटीवी कैमरा व बैरियर को तोड़ डाला। यहां सुरक्षा में लगी दिल्ली पुलिस मूक-दर्शक बनकर यह सब देखती रही। सीएम अरविंद केजरीवाल जी की लोकप्रियता से खौफ खाई भाजपा उन्हें चुनाव में नहीं हरा पा रही है, तो साजिश रच कर उनकी हत्या करना चाहती है। भाजपा पंजाब में जीरो पर सिमट गई है। इसलिए अरविंद केजरीवाल जी की हत्या का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि आज भाजपा के गुंडों ने पुलिस की शह लेकर जानलेवा हमला किया और सीएम आवास के सीसीटीवी कैमरा तोड़े। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा अरविंद केजरीवाल जी को हाथ लगाने का प्रयास भी न करे, अन्यथा देश यह बर्दाश्त नहीं करेगा।

‘आप’ के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा के गुंडे सीएम अरविंद केजरीवाल जी के घर पर तोड़फोड़ करते रहे, लेकिन पुलिस उन्हें हटाने के बजाय देखती रही। यह बड़ा सवाल है कि इतनी सुरक्षा होने के बाद भी कैसे भाजपा के गुंडे मुख्यमंत्री के दरवाजे तक पहुंच गए और उत्पात मचाया। भाजपा चुनावों में नहीं जीत पा रही है, तो अरविंद केजरीवाल जी पर हमले करवाने लगी है। यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

बीजेपी को सिर्फ ‘आप’ और अरविंद केजरीवाल से डर लगता है-भगवंत मान

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर हुए हमले की घटना पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान समेत आम आदमी पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने कड़े शब्दों में निंदा की है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा, ‘‘पंजाब में आम आदमी पार्टी के हाथों करारी हार से बीजेपी की बौखलाहट साफ दिख रही है। पुलिस की मौजूदगी में मुख्यमंत्री दिल्ली अरविंद केजरीवाल जी के घर पर हमला एक कायराना हरकत है। अब यह साफ हो चुका है कि बीजेपी को सिर्फ ‘आप’ और अरविंद केजरीवाल से डर लगता है।


आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य राघव चड्ढा ने कहा, ‘‘माननीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के आवास पर भाजपा के गुंडों द्वारा करा गया हमला बेहद निंदनीय है। पुलिस की मौजूदगी में इन गुंडों ने बैरिकेड तोड़े, सीसीटीवी कैमरा तोड़े, पंजाब की हार की बौखलाहट में भाजपा वाले इतनी घटिया राजनीति पर उतर गए।


आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा, ‘‘भाजपा ने पंजाब में बड़े-बड़े नेता उतारे, मगर बहुत करारी हार हुई। अरविंद केजरीवाल को ऐतिहासिक बहुमत मिला। अब केजरीवाल जी को अपने रास्ते से हटाना चाहते हैं। दिल्ली पुलिस चुपचाप देखती रही और मुख्यमंत्री निवास पर दिन-दहाड़े हमला हो रहा है।


वहीं, आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘शॉकिंग! जब बीजेपी कार्यकर्ता और नेता, सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास पर हंगामा कर रहे थे तो, दिल्ली पुलिस क्या कर रही थी? क्या उन्हें अमित शाह जी के कार्यालय से बीजेपी के गुंडों का समर्थन करने का आदेश मिला था?’’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि क्या भाजपा अरविंद केजरीवाल की पंजाब की जीत से इतना से इतना घबरा गई है कि वो दिल्ली पुलिस के साथ मिल कर उन पर हमला करवा रही है? आज अरविंद केजरीवाल जी देश में भाजपा के विकल्प के तौर पर उभर रहे हैं, तो क्या अमित शाह उनको मरवाना चाहते हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 2 =