भाजपा कल 14 जिलों के 14 अवैध शराब के ठेकों को सील करेगी-आदेश गुप्ता

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली:- भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल की आबकारी नीति के खिलाफ भाजपा पहले से भी अधिक आक्रमक आंदोलन चलाएगी। कल प्रदेश के सभी 14 जिलों के 14 शराब के ठेकों को पार्टी के पदाधिकारी, विधायक एवं कार्यकर्ता मिलकर सील करने जा रहे हैं और आने वाले समय में अवैध शराब की दुकानों की सील करने की संख्या और भी बढ़ेगी। श्री गुप्ता ने नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी के साथ एक संयुक्त प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि जब से दिल्ली के अंदर शराब के ठेके खुले हैं तब से दिल्ली में घरेलू हिंसा के मामले बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन केजरीवाल सरकार इससे बिल्कुल बेखबर है।

श्री गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के रिहायशी इलाकों, स्कूलों, मंदिरों एवं मुख्य बाज़ार के बीच में एवं निगम के नियमों का उल्लंघन करके जितने भी शराब के ठेके खोले गए हैं उनमें से अधिकतम ठेकों को भाजपा कार्यकर्ताओं एवं वहां के समाजिक संगठनों ने बंद करवा दिया है। आजादी के बाद दिल्ली पहला ऐसा राज्य है जिन जगहों पर शराब के ठेके नहीं खुलने चाहिए थे वहां भी ठेके खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली के अंदर ऐसे 123 वार्ड हैं जहां कानूनों का उल्लंघन करके शराब माफियाओं के साथ गठबंधन करके दिल्ली सरकार ने शराब के ठेके खोले। आज हुए प्रेस वार्ता में प्रदेश उपाध्यक्ष श्री राजन तिवारी, प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल एवं प्रदेश प्रवक्ता अनुजा कपूर उपस्थित थे।

श्री गुप्ता ने कहा कि आज ही महिलाओं के एक समूह ने न्यू कोंडली में खुले अवैध शराब के ठेके को बंद करवा दिया। दिल्ली सरकार युवाओं और महिलाओं को शराब के नशे में डुबोने का जो प्रयास कर रही है जिसे भाजपा कभी नहीं होने देगी। भारतीय जनता पार्टी हमेशा दिल्ली के युवाओं एवं महिलाओं के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार प्रदेश को बर्बाद करने में लगी हुई है। खुद की जेब भरने के लिए शराब माफियाओं के साथ मिलकर केजरीवाल ने ड्राई डे कम कर दिया और रिहायशी इलाकों में शराब खोलने से पीछे नहीं हटे।

श्री बिधूड़ी ने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के 601 स्थानों पर शराब के ठेके खुलवा चुकी है। जबकि इसमें से 183 शराब के ठेके ऐसे हैं जो मास्टर प्लान का उल्लंघन करके या नई शराब नीति के नियमों का उल्लंघन करके खोले गए हैं। नियमों को ताख पर रखकर खोले गए शराब के ठेकों को सील करने के लिए माननीय उपराज्यपाल एवं तीनों निगमों के अधिकारियों से भी बात हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने विधानसभा में कहा है कि दिल्ली के 123 ऐसे वार्ड है जहां शराब के ठेके नहीं खोले जा सकते थे, लेकिन इसके बावजूद भी केजरीवाल सरकार द्वारा नियमों की अनदेखी कर शराब के ठेके खोले गए। मंदिर मस्जिद, गुरुद्वारा और स्कूलों के समीप खोले गए शराब के ठेके हर हाल में बंद किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 2 =