प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने मोदी सरकार द्वारा कपड़ा और जूते पर जीएसटी को 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने से व्यापारियों और उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली  – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार चॉदनी चौक क्षेत्र व्यापारियों का क्षेत्र है और कोविड महामारी के दौरान आर्थिक मंदी झेल रहे व्यापारी वर्ग पर केन्द्र सरकार ने 1 जनवरी से रेडीमेड कपड़ों, फेब्रिक और फुटवियर पर 12 प्रतिशत जीएसटी लागू करके देश भर के छोटे, मझले सहित सभी कपड़ा उघोग से जुड़े व्यापारियों की कमर तोड़ने का काम किया है। उन्होंने कहा कि जीएसटी लागू करते समय केन्द्र सरकार ने वादा किया था कि कंज्यूमेबल आईटम पर जीएसटी 5 प्रतिशत निर्धारित किया जाऐगा जिस पर भविष्य में बढ़ौत्तरी नही होगी।   प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष  चौ0 अनिल कुमार ने मांग की अपने वादे के अनुसार केन्द्र सरकार को कपड़ों व फुटवियर पर लगे 12 प्रतिशत जीएसटी को तुरंत प्रभाव से वापस लेकर व्यापारियों को नए साल में राहत देना चाहिए। चौ0 अनिल कुमार ने बताया कि 2014 से पूर्व कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान कपड़ा टैक्स फ्री था। उसके बाद मोदी सरकार ने कपड़े पर 5 प्रतिशत जीएसटी लगा दिया और अब उसे बढ़ाकर 12 प्रतिशत करके व्यापारियों सहित भाजपा सरकार देश की जनता पर अतिरिक्त बौझ डालने का काम कर रही है।

चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में चॉदनी चौक जिला कांग्रेस कमेटी की मटियाला विधानसभा के हौज काजी चौक, चावडी बाजार से जन जागरण अभियान के अर्न्तगत भाजपा और आम आदमी पार्टी की जनविरोधी और गरीब विरोधी नीतियों को उजागर करके दिल्लीवालों के सामने लाने के लिए पोल खोल यात्रा निकाली गई।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा की मोदी सरकार द्वारा रेडिमेड कपड़ा उघोग पर जीएसटी को 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करके व्यापारियों पर कुठाराघात किया है। उन्हांने कहा कि मोदी सरकार ने बड़े व्यापारियों को फायदा पहुॅचाने के लिए नीतियों को सरल बनाकर हजारों करोड़ रुपये माफ किए है और रिटेलर और छोटे व्यापारियों पर 12 प्रतिशत जीएसटी की मार से उनकी कमर तोड़ दी है। केन्द्र सरकार के कपड़ों और फुटवियर पर जीएसटी बढ़ाने से व्यापारियों सहित जनता को भी भारी नुकसान होगा। 1 जनवरी के बाद गरीब लोगों को अपनी जरुरतें पूरी करने के लिए मंहगे कपड़े खरीदने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि रेडीमेड कपड़ो और फुटवियर पर जीएसटी में दोगुना से भी अधिक वृद्धि के निर्णय से कपड़ों की कीमतें 20 से 25 प्रतिशत मंहगी हो जाऐंगी।

जन जागरण अभियान में प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री हारुन यूसूफ, प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल, पूर्व विधायक राजेश जैन, कुंवर करण सिंह, जिला अध्यक्ष मिर्जा जावेद अली, प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन, निगम पार्षद प्रेरणा सिंह, सीमा ताहिरा, डा0 नरेश कुमार, पूर्व पार्षद कृष्ण मुरारी जाटव, डा0 आर.बी. सिंह, राम लाल बंसल, शमसाद, तोता राम, सुशील शर्मा, सहित सेवादल, युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे। बड़ी संख्या में यात्रा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में पार्टी के झंडे लेकर भाजपा और आप पार्टी विरोधी नारे लगा रहे थे। जन जागरण अभियान में महिलाऐं भी बड़ी संख्या में शामिल हुई।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि मौहल्ला क्लीनिक के डाक्टर द्वारा गलत दवाईयां देने के कारण हुई 3 बच्चों की मृत्यु के बाद दिल्ली सरकार दिल्ली की जनता के सामने सही जानकारी पेश करें कि किस मौहल्ला क्लीनिक में यह घटना हुई, बच्चों के परिवारजनो के नाम व कहां रहते है। उन्होंने कहा कि डाक्टर को सस्पेंड करने की जानकारी मीडिया को देने से मरे हुए बच्चे वापस नही आ सकते।  चौ0 अनिल कुमार ने मांग की कि मौहल्ला क्लीनिक की दवाई के कारण हुई बच्चों की मृत्यु के मामले में अरविन्द केजरीवाल सार्वजनिक तौर पर दिल्लीवासियों से माफी मांगे और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन को बर्खास्त करें।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सरकार मृतक बच्चों के परिवार जनों की पहचान क्यों छिपा रही है। पहचान छिपाने से साफ हो जाता है कि मौहल्ला क्लीनिकों की व्यवस्था और दिल्ली सरकार की कहीं न कहीं कमी जरुर रही है, जिसकी जानकारी दिल्ली के लोगों मिलनी चाहिए। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल के विश्वस्तरीय ख्याति प्राप्त मौहल्ला क्लीनिक भ्रष्टाचार का केन्द्र बन चुके है जिनमें गलत दवाई लेकर बच्चें अपनी जान गंवानी पड़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − 5 =