पुलिस से कह देते हैं कि जब तक मैं मौजूद हूं कच्ची शराब वालों के घर मत चले जाना, जानें किस नेता ने कही ये बात


रिपोर्ट :- आशीष द्विवेदी / नीरज अवस्थी

उत्तर प्रदेश :- हरदोई: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Vidhansabha Chunav 2022) नजदीक आते ही नेताओं के विवादित बोल भी सामने आ रहे हैं. हरदोई (Hardoi) में विधानसभा उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल (Nitin Aggarwal) का कच्ची शराब को लेकर विवादित बयान दिया है और इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. नितिन अग्रवाल वीडियो में एक सभा में कहते दिख रहे हैं कि कच्ची बनाओगे तो पुलिस की हिम्मत नहीं कि तुम्हारे घर में घुस जाएं. वहीं इस बयान को लेकर समाजवादी पार्टी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. सपा ने इसे शर्मनाक बताया है।


समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता जितेंद्र वर्मा जीतू ने सपा के बागी विधायक और उत्तर प्रदेश विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नितिन अग्रवाल का कच्ची शराब को लेकर विवादित बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया है. फेसबुक पर साझा किए गए इस वीडियो में नितिन अग्रवाल कहते दिख रहे हैं कि अब यह रिकॉर्डिंग बंद करो, थोड़ा व्यक्तिगत बात भी हो जाए. यह रिकॉर्डिंग थोड़ी बंद कर लो वीडियो बंद कर लो जरा सब लोग-हम तो पुलिस से भी कह देते हैं किसी समाज के व्यक्ति के घर में मत घुस जाना. हमने कह दिया उनसे कि जब तक मैं मौजूद हूं इस समाज के किसी व्यक्ति के घर मत चले जाना, क्योंकि अगर मुझे शिकायत आएगी तो फिर हमें भी कुछ ना कुछ करना पड़ेगा. दरअसल नितिन अग्रवाल अपने निर्वाचन क्षेत्र सदर विधानसभा क्षेत्र में दिनारी से भदना गांव के मार्ग का शिलान्यास करने पहुंचे थे. इस मौके पर भदना गांव में एक सभा का आयोजन किया गयाl

नितिन के बयान पर सपा की प्रतिक्रिया


विधानसभा उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल के इस बयान को लेकर सपा प्रवक्ता जितेंद्र वर्मा ने प्रतिक्रिया देते हुए कहां है कि यह कितना शर्मनाक है ऐसी परिस्थिति हो जब प्रदेश में कच्ची दारू और जहर वाली दारू की वजह से सैकड़ों मौत हो चुकी हैं. पूरे 5 साल का अगर आंकड़ा निकाला जाए तो कच्ची शराब और दारू की वजह से 500 से 600 मौतें हो चुकी हैं. ऐसे समय में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के द्वारा कच्ची दारू निकालने के लिए प्रेरित करना कहीं ना कहीं जनता के साथ धोखा है. भारतीय जनता पार्टी को जनता की जान की कोई फिक्र नहीं है, यह लोग वोट पाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

नितिन अग्रवाल ने प्रतिक्रिया देने से किया इनकार


हालांकि इस मामले में डिप्टी स्पीकर नितिन अग्रवाल ने प्रतिक्रिया देने से साफ इनकार कर दिया है. आपको बता दें कि नितिन अग्रवाल और उनके पिता नरेश अग्रवाल पूर्व में मंदिर परिसर में शराब बंटवाने और संसद में भगवान के नाम पर शराब के नाम बताने के बयान को लेकर सुर्खियों में रहे हैं. ऐसे में नितिन अग्रवाल के इस बयान के सामने आने के बाद राजनीतिक हलकों में हड़कंप मच गया है. डिप्टी स्पीकर नितिन अग्रवाल के इस बयान के बाद समाजवादी पार्टी हमलावर है तो वहीं जिले में कोई भी भाजपा नेता इस बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 − 1 =