पीएम मोदी को अब परिवारवाद पर एक भी शब्द कहने का हक़ नहीं है, अगर वह परिवारवाद के खिलाफ हैं तो एलजी को बर्खास्त करें- संजय सिंह

रिपोर्ट :-नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि खादी ग्रामोद्योग का चेयरमैन रहते हुए उप राज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने कानून का उल्लघंन कर अपनी बेटी शिवांगी सक्सेना को खादी लाउंज के डिजाइन का ठेका दिया। खादी ग्रामोद्योग का अध्यक्ष रहते हुए कोई अपनी बेटी को ठेका कैसे दे सकता है? उप राज्यपाल ने केवीआईसी एक्ट 1961 का खुला उल्लंघन किया है। आम आदमी पार्टी कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है। उप राज्यपाल वीके सक्सेना ने केवीआईसी अध्यक्ष रहते हुए पहले ब्लैक मनी को व्हाइट किया और फिर बेटी को ठेका दिया। उन्होंने कहा कि हमने उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ख़िलाफ़ जांच का स्वागत किया लेकिन जांच में कुछ नहीं मिला। भाजपा की केंद्र सरकार ने अबतक एलजी के खिलाफ कोई केस नहीं किया। वीके सक्सेना के घोटालों की जांच क्यों नहीं होनी चाहिए? आम आदमी पार्टी और सीएम अरविंद केजरीवाल का भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस है। उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने भ्रष्टाचार किया है तो उस भ्रष्टाचार की आग से बच नहीं सकते हैं। मैं पीएम मोदी से पूछता हूं कि दिल्ली के लोगों ने आपका क्या बिगाड़ा? उप राज्यपाल पद के लिए कोई अच्छा ईमानदार व्यक्ति नहीं मिला? दिल्ली को दाग़ी एलजी क्यों दिया? पीएम मोदी को अब परिवारवाद पर एक भी शब्द कहने का हक़ नहीं है।‌ अगर वह परिवारवाद के खिलाफ हैं तो एलजी को बर्खास्त करें। विधायक अखिलेश त्रिपाठी ने कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल का चरित्र बहुत ही संदेहास्पद है। पूर्व में खादी ग्रामोद्योग का चेयरमैन रहते हुए ब्लैक मनी को व्हाइट किया और खादी इंडिया लाउंज की डिजाइनिंग का ठेका अपनी बेटी को दिया। विधायक ऋतुराज झा ने कहा कि उपराज्यपाल की बेटी को काम का कोई अनुभव नहीं है फिर भी उसको इतना बड़ा ठेका दे दिया। वीके सक्सेना के तमाम घोटालों की सीबीआई-ईडी के जरिए जांच होनी चाहिए। जब तक इन घोटालों की निष्पक्ष जांच नहीं हो जाती तब तक उपराज्यपाल वीके सक्सेना को अपने पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है‌। पीएम मोदी तुरंत प्रभाव से इनको पद से हटाएं। विधायक प्रवीण देशमुख ने कहा कि खादी ग्रामोद्योग में चैयरमेन रहते हुए उप राज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने इतने बड़े-बड़े घोटाले किए हैं। अब यह व्यक्ति दिल्ली के लिए खतरा बन चुके हैं। दिल्ली में रह गए तो पता नहीं कितने बड़े घोटाले करेंगे। एलजी अगर तर्क देते हैं कि अपनी इंटीरियर डिजाइनिंग की पढ़ाई करने वाली बेटी को ठेका दिया तो मैं भी एमबीए पढ़ा लिखा व्यक्ति हूं। क्या नरेंद्र मोदी मुझे प्रबंधन के लिए सेंट्रल विस्टा का प्रोजेक्ट देंगे? विधायक मदनलाल ने कहा कि यह सीधे-सीधे अपनी बेटी को सरकारी विभाग में फायदा पहुंचाने का केस है। इसकी केवल जांच ही नहीं, बल्कि दोषी पाए जाने पर सजा भी होनी चाहिए। आप विधायक कल एलजी को कानून व्यवस्था को लेकर ज्ञापन देने एलजी ऑफिस गए थे। लेकिन अंदर से आदेश आया कि एलजी साहब सो रहे हैं, अभी नहीं मिल सकते। विधायक दिनेश मोहनिया ने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि रेवड़ी कल्चर है। रेवड़ी के बारे में कहावत है कि अंधा बांटे रेवड़ी, अपने-अपनों को दे। जिस तरह की रेवड़ी एलजी ने अपनी बेटी को दी है, वह दिखाता है कि रेवड़ी कल्चर क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी क्या 130 करोड़ की आबादी में एक भी ईमानदार और अच्छा आदमी आपको दिल्ली के उपराज्यपाल पद के लिए नहीं मिला- संजय सिंह

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्य‌ सभा सदस्य संजय सिंह और विधायकों ने आज पार्टी मुख्यालय में महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता को संबोधित किया। राज्य सभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल के मनी लॉन्ड्रिंग से लेकर तमाम कारनामों से यह महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता जुड़ी हुई है। मैं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से पूछना चाहता हूं कि दिल्ली के लोगों ने आपका क्या बिगाड़ा है कि 130 करोड़ की आबादी में एक भी ईमानदार और अच्छा आदमी आपको दिल्ली के उपराज्यपाल पद के लिए नहीं मिला। दिल्ली में दागी एलजी क्यों रखा है, दागी एलजी को हटाना पड़ेगा‌। इनके कारनामे एक नहीं अनेक हैं। जब यह खादी ग्रामोद्योग के अध्यक्ष थे उस समय इन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया। खादी में जो विभिन्न पदों पर सेवाएं देने का जो एक्ट बना है, उसका दुरुपयोग करते हुए अपनी बेटी को खादी के लाउंज की डिजाइनिंग का जिम्मा दिया। उसका नाम मुंबई के उस लाउंज के उद्घाटन पत्थर पर लिखा हुआ है।

राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने शिलापट्ट दिखाते हुए कहा कि यह वो खादी का लाउंज है जो मुंबई में बनाया गया। इस खादी के लाउंज की डिजाइनिंग का ठेका एलजी वीके सक्सेना ने केवीआईसी का चेयरमैन रहते हुए अपनी पुत्री शिवांगी सक्सेना को दिया। मंत्री की ओर से किए गए उद्धाटन में वीके सक्सेना मौजूद थे। मैं सीधे तौर पर मांग करता हूं कि जिस एलजी ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपनी बेटी को यह इंटीरियर डिजाइनिंग का ठेका दिया उसको तत्काल इस्तीफा देना चाहिए। उसको उसके पद से हटाना चाहिए। केवीआईसी के 1961 का खुला उल्लंघन दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने किया है। पूरे मामले पर आम आदमी पार्टी अपने तमाम वरिष्ठ अधिवक्ताओं से राय ले रही है और कोर्ट में जाने की तैयारी कर रही है की आखिर अध्यक्ष रहते हुए कोई अपनी बेटी को ठेका कैसे दे सकता है। तब तक एलजी को तत्काल पद से हटाया जाए। उनको अपने पद पर बने रहने का अधिकार नहीं है।

भ्रष्टाचार का यह दूसरा मामला है, पहले मामले में केवीआइसी के अध्यक्ष रहते हुए वीके सक्सेना ने नोटबंदी के दौरान कालेधन को सफेद किया- संजय सिंह

उन्होंने कहा कि यह दूसरा मामला है। पहले मामले में केवीआइसी के अध्यक्ष रहते हुए वीके सक्सेना ने नोटबंदी के दौरान कालेधन को सफेद किया। सिर्फ एक ब्रांच से 2 कर्मचारियों की लिखित शिकायत है कि अध्यक्ष के कहने पर 22 लाख रुपए बदले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + twenty =