पंजाब में यात्रा से पहले राहुल गांधी पहुंचे स्वर्ण मंदिर,15 जनवरी को जालंधर में करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

रिपोर्ट :-मेहनाज़ अंसारी

पंजाब : मंगलवार को शाहपुर अंबाला से कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा 116वें दिन शुरू हुई। सुबह 6 बजे के क़रीब जब यात्रा शुरू हुई तब घना कोहरा और ज़बरदस्त ठंड थी। फिर भी बड़ी संख्या में स्थानीय लोग यात्रा में शामिल हुए।

सुबह के सत्र में मुख्य रूप से चार समूह राहुल गांधी के साथ चले। पहले ग्रुप में दलित बुद्धिजीवी एवं लेखक एसपी सिंह तथा देस हरियाणा पत्रिका के डॉ सुभाष चंद्र थे। इन दोनों ने हरियाणा के सामाजिक-सांस्कृतिक और आध्यात्मिक मुद्दों पर गांधी से बातचीत की। राहुल गांधी ने रुचि लेकर हरियाणा की विशिष्ट संस्कृति और विरासत से जुड़ी बातें सुनी। दूसरे समूह में मैग्सेसे अवार्ड से सम्मानित बेजवाड़ा विलसन थे जिन्होंने सीवर की मैनुअल सफाई के कारण होने वाली मौतों पर बात की। उन्होंने बताया कि टेक्नोलॉजी ना होने के कारण सफाई के दौरान दम घुटने से हर साल कई सफाई कर्मियों की जान जाती है। राहुल गांधी ने इस पर अफसोस जताते हुए कहा कि यह बेहद निंदनीय है और इसे रोका जाना चाहिए। उन्होंने इसके लिए आए सुझाव को गंभीरता से सुना और अपने स्तर से प्रयास करने का भरोसा दिया। तीसरा समूह अंबाला और इसके आसपास के साइंटिफिक उद्यमियों का था, जिन्होंने मुख्य रूप से चीन पर निर्भरता कम करने के सुझाव दिए। उनका कहना था कि आज चीन हमें इसलिए आंखें दिखाता है क्योंकि हम उसपर निर्भर हैं। राहुल गांधी ने उनकी बातों पर सहमति जताई और कहा कि हमें डिपेंडेंट नेशन की जगह एक प्रोडक्शन नेशन बनने के लिए काम करना होगा।

राहुल गांधी के साथ आज कवि सलमा भी चलीं। इसके अलावा राहुल गांधी ने चाय ब्रेक के दौरान युवाओं के एक समूह से और यात्रा समाप्त होने के बाद पंचायती राज के प्रतिनिधियों से मुलाक़ात की। सुबह की यात्रा ख़त्म होने के बाद राहुल अमृतसर रवाना हुए जहां उन्होंने सिख धर्म के सबसे पवित्र धर्मस्थल श्री हरमंदिर साहिब में माथा टेका।

सुबह 11:00 बजे कांग्रेस सांसद एवं पार्टी के संचार विभाग के चेयरमैन जयराम रमेश, हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा एवं अन्य नेताओं ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया।

जयराम रमेश ने कहा कि हरियाणा में लगातार 8 दिन भारत जोड़ो यात्रा हुई है। राज्य के 7 ज़िलों – नूंह, गुरुग्राम, फ़रीदाबाद, पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र और अंबाला से होकर यात्रा गुज़री है। कुल मिलाकर हरियाणा में हमने 255 किलोमीटर कवर किया है। 11 तारीख़ से पंजाब में भारत जोड़ो यात्रा शुरू होगी। 11 को पूरे दिन सामान्य रूप से यात्रा होगी और 12 को सिर्फ़ सुबह यात्रा होगी, शाम में नहीं होगी, उस दिन यात्री सुबह के सत्र में ही लगातार 25 किलोमीटर चलेंगे। 13 जनवरी को लोहरी के लिए विश्राम का दिन है। 14 को यात्रा फिर से शुरू होगी। 15 जनवरी को राहुल गांधी जालंधर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

रमेश ने आगे कहा कि हरियाणा में भारत जोड़ो यात्रा विशेष रही है। पानीपत में बहुत उम्दा रैली हुई। यहां यात्रा के दौरान लोगों का जो रिस्पांस मिला वो भी बहुत उम्दा था। इस दौरान राहुल गांधी की तीन ख़ास मुलाकातें हुईं। जय जवान – पूर्व सैनिकों के साथ, जय किसान – किसान संगठनों के साथ और जय पहलवान खिलाड़ियों के साथ। हालांकि एक छोटा सी बातचीत जय विज्ञान के रूप में अंबाला और आसपास के इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों के साथ भी हुई थी। जयराम रमेश ने आगे कहा कि किसान संगठनों से राहुल गांधी की मुलाक़ात विशेष मायने रखता है। जिन्होंने राहुल गांधी के सामने 3 मुख्य मुद्दे उठाए। पहला MSP की लीगल गारंटी होनी चाहिए। दूसरा भूमि अधिग्रहण कानून में हरियाणा सरकार द्वारा किए गए बदलाव किसान हित में नहीं हैं। तीसरा जब कांग्रेस की सरकार बने तब भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन किया जाए। इसके अलावा भी किसानों ने कई मुद्दे उठाए। जयराम रमेश ने बताया कि राहुल गांधी ने ध्यान से किसानों की समस्याएं सुनी और कहा कि कांग्रेस का किसानों के साथ एक साझेदारी है और हम हमेशा किसान संगठनों के साथ बातचीत करते रहेंगे। जहां कांग्रेस की सरकारें हैं, वहां हम ज़्यादा से ज़्यादा किसानों के हितों के लिए काम करने का प्रयास करेंगे तथा स्वयं कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत करके किसान संगठनों की मांगों को रखेंगे।

रमेश ने हरियाणा की ख़राब सड़कों का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में हमें ठंड के साथ-साथ खराब सड़कों का भी सामना करना पड़ा। हरियाणा के 7 जिलों में सड़कें नहीं, गड्ढे दिखे। रमेश ने आगे कहा कि एक समय था जब हरियाणा की सड़कों की मिसाल दी जाती थी। केंद्र सरकार की मीटिंग होती थी तो सबको कहा जाता था कि हरियाणा की सड़कें देखो और अपने राज्य में ऐसी सड़कें बनाओ। आज यहां सड़कों की बेहद ख़राब स्थिति है। जयराम रमेश ने कहा कि मैं खुद इन पर चोटिल हो चुका हूं।

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा जिन ज़िलों से होकर गुजरी है वहां पिछले चुनाव के रिजल्ट के हिसाब से हमारी पार्टी थोड़ी कमज़ोर है। बावजूद इसके समाज के हर वर्ग का जो रिस्पांस मिला उसके आधार पर मैं कह सकता हूं कि यह यात्रा जन आंदोलन में बदल गई है। भूपेंद्र हुड्डा ने भी खराब सड़कों का जिक्र करते हुए कहा कि सड़क में गड्ढे तो हमने सुने हैं लेकिन यहां गड्ढों में सड़कें हैं। 8 साल से इस सरकार ने सड़कों की मेंटेनेंस नहीं की है। राज्य में एक नॉन परफॉर्मिंग गवर्मेंट है। 2014 में कांग्रेस के शासन में हरियाणा प्रति व्यक्ति आय में देश में नंबर वन था। आज बेरोज़गारी में नंबर 1 हो गया है। हरियाणा की सरकार CMIE के आंकड़ों को नकारती है लेकिन जब उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में चुनाव होते हैं तो भाजपा इसी संस्था के ही आंकड़ों का इस्तेमाल करती है। हुड्डा ने अंत में यात्रा को राज्य में सफल बनाने के लिए प्रदेश की जनता, कार्यकर्ताओं एवं नेताओं को धन्यवाद दिया और कहा कि भारत जोड़ो यात्रा ऐतिहासिक यात्रा होगी।

हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने 11 जनवरी की यात्रा के कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए बताया कि कल सुबह 6 बजे फतेहगढ़ साहिब गुरुद्वारा में शीश झुकाने के बाद 6.30 में फ्लैग हेंडओवर सेरेमनी होगी। उनके बाद 7 बजे पदयात्रा शुरू होगी। 10 बजे मंडी-गोबिंदगढ़ के खालसा स्कूल ग्राउंड में मॉर्निंग ब्रेक होगा। वहां से 3:30 बजे फिर पदयात्रा शुरू होगी। शाम का ब्रेक होटल ग्रीनलैंड, खन्ना में होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + 1 =