पंजाब में ‘आप’ की सरकार बनी तो, गरीब और एससी भाईचारे के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा देने की जिम्मेदारी हमारीे- अरविंद केजरीवाल

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली/पंजाब :-पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो, गरीब और एससी भाईचारे के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा देने की जिम्मेदारी हमारीे होगी। 70 साल बाद भी देश के हर-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा देने का बाबा साहब का सपना पूरा नहीं हो पाया। लेकिन हमने कसम खाई है कि बाबा साहब का यह सपना हम लोग पूरा करेंगे। दिल्ली की तरह पंजाब के भी सरकारी स्कूलों को शानदार करेंगे। आज तक किसी पार्टी ने आकर यह नहीं कहा होगा कि आपके बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे, लेकिन मैं यह कह रहा हूं कि आपके बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे। इसके अलावा, हमारी सरकार सफाई कर्मचारियों को पक्का करेगी। हम सीवर मैन को मशीनें देंगे और सीवर में घुस कर सफाई करना बंद करेंगे, ताकि वो बिजनेस भी करें और इज्जत के साथ अपनी जिंदगी भी जी सकें। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज अमृतसर स्थित प्राचीन एवं ऐतिहासिक ‘श्रीराम तीरथ मंदिर का दर्शन करने के उपरांत एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बातें कही।

भगवान बाल्मीकि और बबा साहब डॉ. अंबेडकर दोनों ने ही शिक्षा को बहुत महत्व दिया- अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज अमृतसर में राम तीरथ मंदिर परिसर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि आज भगवान बाल्मीकि के इस बेहद पवित्र स्थान पर आकर नत-मस्तक होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। यह स्थान बहुत ही पवित्र हैं। यहां पर माता सीता को भगवान बाल्मीकि ने अपनी पुत्री की तरह रखा था। लव-कुश का यहीं जन्म हुआ था। लव-कुश को भगवान बाल्मीकि ने शिक्षा दी थी। भगवान बाल्मीकि आदि कवि के नाम से जाने जाते हैं। उन्होंने भी शिक्षा को बेहद महत्व दिया और बाबा साहब डॉ. अंबेडकर ने भी शिक्षा को बहुत महत्व दिया। बाबा साहब अंबेडकर बहुत गरीब परिवार में जन्में थे, लेकिन उन्होंने विदेश से दो-दो डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की। घर में खाने को नहीं था, लेकिन फिर उन्होंने स्कॉलरशिप लेकर विदेश से दो-दो पीएचडी हासिल की। बाबा साहब का सपना था कि देश के हर बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्राप्त हो। लेकिन आज 70 साल के बाद भी बाबा साहब का यह सपना पूरा नहीं हो पाया। आज भी गरीब और दलित तबके के बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं मिलती। गरीबी की वजह से दलित समाज के लोग, गरीब लोग अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में भेजने के लिए मजबूर होते हैं और सरकारी स्कूलों की बुरी हालत है।

सरकार बनेगी, तो एससी भाईचारे के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा देंगे- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम लोगों ने कसम खाई है कि बाबा साहब का सपना हम लोग पूरा करेंगे। जैसे दिल्ली में सरकारी स्कूल शानदार किए, उसी तरह से आज इस पवित्र स्थान पर कसम खाकर जा रहा हूं कि अगर सरकार बनेगी, तो एससी भाईचारे के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा देंगे। जो शिक्षा अमीरों के बच्चों को मिलती है, ऐसी अच्छी से अच्छी शिक्षा देने की जिम्मेदारी हमारी होगी। सबको अच्छी से अच्छी शिक्षा देंगे। बाकी पार्टियों व बाकी सरकारें जो मर्जी वादे करें, लेकिन आज तक किसी ने आकर यह नहीं कहा होगा कि हम आपके बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे, लेकिन मैं कह रहा हूं कि आपके बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे। आपके बच्चों को एक पीढी के अंदर अगर हमने अच्छी शिक्षा दे दी, तो एक पीढ़ी के अंदर पूरे समाज की गरीबी दूर हो जाएगी और पूरा समाज बाकी समाज के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेगा। केवल और केवल शिक्षा की वजह से बराबरी का हक मिलेगा। इसलिए शिक्षा बहुत जरूरी है।

मजबूरी में आज भी लोगों को सीवर के अंदर घुसकर सफाई का काम करना पड़ रहा है, यह सही नहीं है- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने यहां के संत समाज से बात की। संत समाज का कहना है कि श्राइन बोर्ड भंग किया जाना चाहिए। यह समाज मंदिर है, समाज का पवित्र स्थान है, तो समाज को उसको चलाने की जिम्मेदारी मिलनी चाहिए। इस बात से हम पूरी तरह से सहमत हैं। उन्होंने कहा कि सफाई कर्मचारी आज कठिन परिस्थितियों में काम करते हैं। अभी वे कच्चे हैं। उनकी नौकरी कब तक है, यह नहीं पता है। ठेकेदार तरह-तरह से उनको शोषण करते हैं। हमारी सरकार बनने पर सफाई कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा और उनको सारी सहूलियतें दी जाएंगी। अभी भी सीवर मैन बिना किट के सीवर के अंदर घुस कर खुद हाथ से साफ करते हैं। 21वीं सदी में हम लोग चले गए हैं, लेकिन फिर भी मजबूरी में लोगों को आज भी सीवर के अंदर खुद घुसकर यह काम करना पड़े, यह सही नहीं है। हमने दिल्ली में एससी भाईचारे के लोगों को मशीनें खरीद-खरीद कर दी है। उन्होंने अपनी मशीनें खरीद कर अपना बिजनेस शुरू कर लिया। इस तरह वे बेरोजगार भी नहीं हुए और जो सीवर मैन कल तक अंदर घुस कर सीवर की सफाई करता था, वो आज बिजनेस मैन बन गया। पंजाब में भी हम सबको मशीनें देंगे और सीवर में घुस कर सफाई करना बंद करेंगे और सभी को इज्जत और बराबरी का हक देंगे, ताकि वो बिजनेस भी करें और इज्जत के साथ अपनी जिंदगी जी सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + sixteen =