दिल्ली स्किल एंड एंटरप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी ने विश्वविद्यालय के पहले दल का स्वागत किया, डिग्री छात्रों के लिए 3 दिन का ओरिएंटेशन प्रोग्राम

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-दिल्ली स्किल एवं एंटरप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी ने अपने डिप्लोमा एवं डिग्री प्रोग्राम के पहले बैच का स्वागत किया। विश्वविद्यालय को 11 फ्लैगशिप प्रोग्राम्स के लिए अच्छा रिस्पांस मिला है। इसमें डिजिटल मीडिया एंड डिज़ाइन, मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी एवं डेटा एनालिटिक्स जैसे नए प्रोग्राम शामिल हैं। स्नातक डिग्री छात्रों के लिए 3 दिन का ओरिएंटेशन प्रोग्राम सोमवार को शुरू हुआ। 9 दिसंबर 2021 से डिप्लोमा छात्रों का ओरिएंटेशन शुरू होगा।

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, यह हम सभी के लिए एक बड़ा दिन है। डीएसईयू के लिए हमारा सपना आज साकार हो गया है। आप सभी अब दिल्ली की स्किल रेवोलुशन का हिस्सा हैं। डीएसईयू के साथ हमारा उद्देश्य उच्च शिक्षा प्रणाली में बदलाव लाना है। जिससे छात्रों को अप-टू-डेट मार्किट डिमांड के अनुसार शिक्षा प्राप्त हो सके। यह दिल्ली की शिक्षा प्रणाली में रेवोलुशन लाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली हमें दिल्ली के युवाओं को उनकी पसंद के क्षेत्र में कौशल और विशेषज्ञता हासिल करने का अवसर प्रदान करते हुए खुशी हो रही है। उन्होंने आगे कहा मैं इस सपने को साकार करने के लिए डीएसईयू टीम के लगातार प्रयास के लिए बधाई देना चाहता हूं। हम यहां यह सुनिश्चित करने के लिए हैं कि किसी भी छात्र को अपने सपनों को हासिल करने के लिए सहयोग मिले, ताकि वे रोज़गार हासिल कर समाज के विकास में सहयोग कर सकें। डीएसईयू यह सुनिश्चित करेगा कि युवाओं को उद्यमशीलता कि ओर प्रोत्साहित किया जाए एवं उन्हें मार्गदर्शन और समर्थन दिया जाए ताकि वे नौकरी प्रदाता बन सकें।

कार्यक्रम में बतौर विशेष अतिथि मौजूद दिल्ली विधानसभा की शिक्षा समिति की अध्यक्ष एवं विधायक आतिशी ने कहा कि आप सभी को डीएसईयू को चुनने के लिए आभार व्यक्त करना चाहती हूं। डीएसईयू की स्थापना युवाओं को कुशल बनाने के लिए की गई है, जिससे युवाओं के पास न केवल एक अच्छी नौकरी प्राप्त करने के लिए कौशल एवं ज्ञान होगा, बल्कि एक नौकरी प्रदाता बनने की क्षमता भी होगी। आप सभी युवा देश के अगले दो दशक की तरक्की तय करेंगे। आप सभी को प्रासंगिक शिक्षा प्रदान करना हमारी ज़िम्मेदारी है। डीएसईयू एकमात्र ऐसा विश्वविद्यालय है जहां उद्योग के विशेषज्ञ प्रोग्राम्स को समग्र और प्रासंगिक बनाने के लिए हर कदम पर इतनी बारीकी से काम कर रहे हैं।

आतिशी ने छात्रों को सलाह देते हुए कहा कि यह पहली बार है जब आप सभी एक बालिग के रूप में अपने जीवन की शुरुवात करेंगे। हमारे स्कूली जीवन के दौरान, हमारा जुड़ाव हमारे स्कूल के सहपाठियों और शिक्षकों तक ही सीमित होता है। जब हम कॉलेज जाते हैं तो हमारे आस पास बातचीत करने, सीखने समझने के लिए नए लोग जुड़ते हैं। आपके पास विभिन्न संस्कृतियों के संगी – साथी होंगे। सभी से बात करें, उनकी दुनिया के बारे में अपनी समझ का विस्तार करें। जिससे आपका व्यक्तिगत विकास होगा। खुद को अभिव्यक्त करने एवं खुद की पसंद व नापसंद को समझने के लिए विभ्भिन गतिविधियों में भाग लें।

डीएसईयू की वीसी प्रो नेहारिका वोहरा ने कहा कि हम उन सभी छात्रों को बधाई देना चाहते हैं जो विश्वविद्यालय के पहले शैक्षिक वर्ष में हमारे साथ शामिल होंगे। मैं डीएसईयू में आप सभी का स्वागत करती हूं। यह विश्वविद्यालय उच्च शिक्षा के कथन को बदलते हुए देश के लिए मिसाल कायम करने का लक्ष्य रखता है। आप सभी इस प्रक्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। उन्होंने आगे कहा कि प्रोटोकॉल के कारण हम छात्रों को कैंपस में आमंत्रित नहीं कर सके। यह तईन दिवसीय ओरिएंटेशन विश्वविद्यालय को प्रत्येक छात्र तक पहुंचाने का हमारा प्रयास है। छात्रों और शिक्षकों के बीच संवाद सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक दिन की योजना बनाई गई है।

ओरिएंटेशन का विवरण साझा करते हुए वीसी ने कहा कि छात्रों को विश्वविद्यालय एवं नायकत्व टीम से परिचित कराया गया। जिसके बाद ‘एक सफल शिक्षार्थी और उद्योग की जरूरतों’ के विषय पर आईआईआईटी दिल्ली के प्रो. पंकज जलोटे के साथ एक सत्र आयोजित किया गया। दिन के दूसरे भाग में छात्रों ने अपने बैचमेट्स को जानने के लिए विभिन्न गतिविधियों में भाग लिया एवं युवा प्रोफेशनल्स के साथ ‘स्कूल से कॉलेज ट्रांजीशन’ के विषय पर चर्चा की।

उन्होंने कहा कि अगले दो दिन शैक्षिक ब्रीफिंग पर ध्यान केंद्रित किया जायेगा, छात्रों को उनके उद्योग क्षेत्र भागीदारों से परिचित कराया जायेगा। अंत में उनका परिचय कैंपस से कराया जायेगा। विश्वविद्यालय के बोर्ड ऑफ़ मैनेजमेंट के सदस्य एवं प्रमुख उद्योग विशेषज्ञ प्रमोद भसीन एवं श्रीकांत शास्त्री ‘एक उद्यमी बनने का विचार’ पर छात्रों के साथ बातचीत करेंगे। ‘युवाओं में उद्यमशीलता की आवश्यकता’ पर भी चर्चा करेंगे। हम छात्रों को विश्वविद्यालय के सभी पहलुओं से परिचित कराएंगे एवं उन्हें दिन भर की गतिविधियों पर विचार करने का समय भी देंगे।

अपने स्नातक डिग्री के दिनों और स्कूल से कॉलेज के सफ़र के बारे में बताते हुए वीसी ने छात्रों के लिए कुछ अंतर्दृष्टि साझा की और कहा असफलता सफलता का एक बड़ा हिस्सा है। सफलता लगातार प्रयासों से ही मिलती है। कोशिश करते रहना बहुत जरूरी है। डीएसईयू में हम आपको ‘सीखने के तरीके’ को सीखने में मदद करेंगे।

विश्वविद्यालय में डिप्लोमा छात्रों के लिए 3 दिन का ओरिएंटेशन 9 दिसंबर 2021 से शुरू होगा। डिप्लोमा छात्रों के लिए भी एक विस्तृत प्रोग्राम प्लान किया गया है। ताकि उन्हें विश्वविद्यालय एवं कैंपस से परिचित कराया जा सके। विश्वविद्यालय में छात्रों के लिए प्रोग्राम्स भविष्य की बढ़ती मांग को देखते हुए चुने गए हैं।

उद्योग इंटरफेस सभी प्रोग्राम्स का एक मुख्य हिस्सा है। इससे छात्रों को बाज़ार में कदम रखने से पहले उद्योग की जरूरतों को जानने का मौका मिलेगा। छात्रों को ऐसे कौशल भी सिखाए जाएंगे जिन्हें विश्वविद्यालय द्वारा ‘फेस द वर्ल्ड स्किल्स’ के रूप में मान्यता दी गई है, ताकि छात्र न केवल नौकरी बल्कि जीवन के लिए तैयार हो सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × two =