दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार के नेतृत्व में आज महरौली जिला कांग्रेस की देवली विधानसभा में जन जागरण पोल खोल यात्रा निकाली गई

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली, – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल अनिल कुमार ने आज महरौली जिला कांग्रेस कमेटी की देवली विधानसभा में आयोजित जन जागरण पोल खोल यात्रा में कहा कि सबका साथ सबका विकास और दिल्ली को लंदन पेरिस बनाने की बात करने और लाखों करोड़ो युवाओं को रोजगार देने का वायदा करने वाले प्रधामंत्री मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों और देशवासियां के साथ विश्वासघात किया है। आज की जन जागरण पोल खोल यात्रा एल-1 बांध रोड़, संगम विहार से शुरु हुई जिसमें कांग्रेस कार्यकर्ता सहित क्षेत्रीय निवासियों की भागीदारी काफी तादात में थी। केजरीवाल की दिल्ली सरकार ने यहा रिहायशी क्षेत्र में पिछले वर्ष बुलडोजर चलाकर सैंकड़ों लोगों को बेघर कर दिया था। उन्होंने कहा कि केजरीवाल की दिल्ली सरकार ने यहा रिहायशी क्षेत्र में पिछले वर्ष बुलडोजर चलाकर सैंकड़ों लोगों को बेघर कर दिया था। आर.डब्लू.ए. ऐसोसिऐशन के लोगों ने तिगड़ी से देवली रोड़ की टूटी सड़क होने की प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष शिकायत की क्योंकि विधायक और निगम पार्षद यहां की टूटी सड़कों की तरफ कोई ध्यान नही दे रहे हैं।

जन जागरण पोल खोल यात्रा में प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के साथ पूर्व सांसद रमेश कुमार, मीडिया कमेटी के चैयरमेन व पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज, जिला अध्यक्ष राजेश चौहान और विष्णु अग्रवाल, जगप्रवेश कुमार, पूर्व विधायक विजय लोचव, शीशपाल, अ0भ0क0कमेटी की जिला आब्जर्वर शैली चौधरी, प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय सिंह, पूर्व निगम पार्षद प्रवीण राणा, धीरज बसौया, राजेन्द्र तंवर, सुभाष गुप्ता, पुष्पा सिंह, ओमवत्ती, महिला कांग्रेस जिला अध्यक्ष कांता शर्मा, किसान सेल चैयरमेन राजबीर सौलंकी, राजबीर सिंह, प्रमोद यादव, रियासुद्दीन, शुभम शर्मा, मुन्ना अहमद खान, बलवान सिंह, विरेन्द्र शर्मा, रुप राम शर्मा, राम निवास सहगल, चन्द्रकांत गिरी मुख्य रुप से शामिल थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने संगम विहार में दिल्ली के लोगों को कहा था कि मैं हर घर में स्वच्छ पानी पहुचाउॅगा, परंतु 7 वर्षों के शासन के बाद भी देवली विधानसभा में पानी की समस्या बरकार है और यहां के विधायक प्रकाश जरवाल टैंकर माफिया के साथ मिलकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि स्पेशल कोर्ट ने प्रकाश जरवाल के खिलाफ स्व0 डा0 राजेन्द्र सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाने व जबरन वसूली वाले केस को मंजूरी देकर स्थानीय लोगों के साथ हुए अत्याचारों को मद्देनजर जनता के हित को सही मानकर फैसला लिया है। देवली क्षेत्र में प्रकाश जरवाल की जबरन पैसे की मांग से क्षेत्रवासी परेशान थे जिसके परिणामस्वरुप टैंकर मालिक की मौत हुई जबकि टैंकर मालिक अधिकृत पानी आपूर्तिकर्ता थे। उन्हांने कहा कि कोर्ट में यह बात साबित हो गई है कि डा0 राजेन्द्र सिंह को आप पार्टी विधायक प्रकाश जरवाल ने आत्महत्या के लिए उकसाया था।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि मोदी-केजरीवाल सरकारें बढ़ती मंहगाई के प्रति पूरी तरह से बेपरवाह है। उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के कारण बढ़ती गरीबी, भुखमरी से लोगों की अजीविका संकट में है। पेट्रोल, डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के चलते रोजमर्रा की जरुरत के सामानों दाल, तेल, तिलहन, फलों व सब्जियों के दामों की आसमान छूती कीमतों से जीवन बेहाल है। महिलाओं ने रसोई गैस व घरेलू वस्तुओं की बढ़ती कीमतों पर मोदी और केजरीवाल सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया, जबकि उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 2 दिन पहले प्रेस कांफ्रेस में कहा था कि दिल्ली में महंगाई कम हुई है।
चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली कांग्रेस भाजपा की केन्द्र और निगम सरकारों तथा आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचार, अमानवीय, अलोकतांत्रिक और गरीब विरोधी परिचलन के खिलाफ जन जागरण पोल खोल यात्रा के द्वारा इनकी नाकामियों और विफलताओं को दिल्ली की जनता को बताकर जागरुकता फैला रही है कि दोनो पार्टियों ने पिछले 7 वर्षों में दिल्ली की जनता को भ्रमित करने के अलावा कुछ नही किया है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा किसानों सहित देशवासियों की जीत है, जिसके लिए हमें श्री राहुल गांधी जी द्वारा किसानों के अधिकारों के लिए लड़ी गई लड़ाई के लिए उनका आभार प्रकट करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार जन विरोधी है, किसान विरोधी है, कानून विरोधी है, इनकी हठधर्मिता, अहंकार और गलत नीतियों को स्वीकार नही किया जायेगा। उन्हांने कहा कि किसानों के अधिकारों की लड़ाई के आगे अलोकतांत्रिक प्रवृति अपनाने वाली मोदी सरकार को आखिरकार झुकना ही पड़ा, जिसके बारे में संसद में श्री राहुल गांधी जी ने संसद में कहा कि सरकार को एक दिन तीनों कृषि कानूनां को वापस ही लेना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 + twenty =