दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड चैतमा कैम्प में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया

रिपोर्ट :- गणेश दास महंत

छत्तीसगढ़ :-कोरबा/पाली:- विश्व पर्यावरण दिवस प्रति वर्ष 5 जून को मनाया जाता है।लेकिन हर बार इसकी थीम कुछ अलग ही है।इस बार विश्व पर्यावरण दिवस ऐसे समय आया है । जब पूरी दुनिया कोरोना वाइरस संक्रमण से जूझ रही है।हर साल प्रत्येक 5 जून को पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाता है।इस साल 2021 को विश्व पर्यावरण दिवस की थीम (Ecosytem restoration) है जिसमे छतिग्रस्त या नष्ट हो चुके परिस्थितकी तंत्र को बेहतर बनाने में सहयोग देना नाजुक दौर से गुजर रहे परिस्थितिकी तंत्र को कई तरह के बहाल किया जा सके ,पेड़ पर्यावरण की देखभाल के सबसे आसान और सर्वोत्तम तरीकों में से एक है।

दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड चैतमा कैम्प में आज विश्व पर्यावरण दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया बतौर मुख्यातिथि शमा फारूकी वन मंडल अधिकारी कटघोरा विशिष्ट अतिथि के रूप में ए.आर. बंजारे,मृत्यंजय शर्मा वनपरिछेत्राधिकारी चैतमा, केदारनाथ जोगी , वनपरिछेत्राधिकारी पाली,संतोष पटेल, परिछेत्र सहायक पाली की गरिमामय उपस्थित में यह कार्यक्रम का आयोजन किया गया सर्वप्रथम वन मंडल अधिकारी शमा फारूकी द्वारा वृक्षारोपण किया गया साथ ही विशिष्ट अतिथि के द्वारा भी वृक्षारोपण किया गया व चैतमा परिछेत्र अधिकारी मृतुन्जय शर्मा , केदारनाथ जोगी,वनपरिछेत्राधिकारी पाली द्वारा वृक्षारोपण किया गया लोगों को पर्यावरण दबाव ,को भी खत्म करने की जरूरत है। कुल मिलाकर परिस्थितिक तंत्र को दुरुस्त बनाने के लिए शहरी और ग्रामीण परिदृश्य में अलग अलग तरीके से है। 5 जून को हर साल विश्व पर्यावरण दिवस यानी वर्ल्ड इनवायरमेंट डे मनाया जाता है। ये दिन लोगो में पर्यावरण को लेकर जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है।

इस दिन शोसल मीडिया पर पर्यावरण से जुड़कर फैक्ट शेयर किए जाते है ताकि लोग इसके बारे में सजग रहे। विश्व पर्यावरण दिवस हर वर्ष 5 जून को मनाया जाता है।इस दिन लोगों को इस कार्यक्रम के जरिए प्राकृतिक को संरक्षित रखने और इससे खिलवाड़ न करने के लिए जागरूक किया जाता है।(world enviornment day 2021) पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरूकता फैलाना और पर्यावरण को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से हर वर्ष 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस यानी वर्ल्ड एनवारमेंट डे मनाया जाता है। इसदिन लोगों को जागरूक करने के लिए कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किये जाते है इस कार्यक्रमों के जरिए लोगों को पेड़ पौधे लगाने पेड़ो की संरक्षण करने हरे पेड़ो को नुकसान न करने जैसी कई चीजों के लिए जागरूकता किया जाता है।

दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड चैतमा कैम्प द्वारा यह कार्यक्रम के द्वारा पेड़ पौधे को नुकसान न करने की जानकारी प्रदान की गई, इस समय पूरे विश्व कोरोना वायरस की संक्रमण से ग्रसित है,अधिकारी कर्मचारियों व लोगों में ऑक्सीजन की कमी के कारण मौते हो रही है वर्तमान स्थिति को देखते हुए हमें पर्यावरण की रक्षा करना अत्यंत आवश्यक है। दीलिप बिल्डकॉन लिमिटेड चैतमा कैम्प के द्वारा पर्यावरण के प्रति छति न पहुचाने हेतु शपथ भी ग्रहण किया गया।

वैसे तो विश्व पर्यावरण दिवस 1972 में संयुक्त राष्ट्र संघ के द्वारा मनाया गाया था, लेकिन विश्व स्तर पर इसके मनाने की शुरूआत 5 जून 1974 को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में शुरू हुई थी और इसमें 119 देशों ने भाग लिया था। इस सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम का गठन किया गया था।

साथ ही प्रति वर्ष 5 जून को पर्यावरण दिवस मनाने का निर्णय लिया गया था। सम्मेलन में 5 जून से 16 जून तक कार्यक्रम आयोजित किया जाता था इसलिए इस दिवस के लिए श्लोगन रखा गया था,केवल एक कि पृथ्वी,यह कार्यक्रम दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड चैतमा कैम्प के द्वारा आयोजित किया गया जिसमें मुख्य रूप से राकेश कुमार कुंतल प्रोजेक्ट मैनेजर,जफरुल हसनैन खान, सुरक्षा मैनेजर, प्रवीण कुमार, शुभम कुमार संपर्क विभाग,इत्यादि लोग कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =