जूनियर जगजीत सिंह प्रतियोगिता के विजेता बने गुना (मप्र) के महेश राव दूसरे सीजन में रंग लाई मेहनत

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

  • जगजीत सिंह के जन्मदिवस पर आयोजित हुआ ग्रैंड फिनाले
  • फर्स्ट रनर-अप रहे कोलकाता के मुनव्वर राशिद खान को मिलेगा विशिष्ठ सम्मान
  • लुधियाना की तस्मीन कौर रहीं सेकंड रनर-अप, जूरी की भूमिका में रहे प्रमोद भट्ट और बिपिन आर. पंडित

नई दिल्ली :-: ट्रूपल द्वारा आयोजित देश की पहली ऑनलाइन गजल प्रतियोगिता, ‘जूनियर जगजीत सिंह’ के ग्रैंड फिनाले में मध्य प्रदेश के गुना निवासी सिंगर महेश राव ने अपनी करिश्माई आवाज का जादू बिखेरते हुए जूनियर जगजीत सिंह, सीजन-2 का खिताब ‘द अल्टीमेट जूनियर जगजीत सिंह’ अपने नाम किया। वहीं कोलकाता के मुन्नवर राशिद खान फर्स्ट रनर-अप रहे, जिनकी रूहानी प्रस्तुति के कारण, जूरी मेंबर्स ने उन्हें विशिष्ट पुरस्कार से सम्मानित करने का फैसला किया, जबकि लुधियाना की तस्मीन कौर सेकंड रनर-अप रहीं। चैनल के सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर लाइव प्रसारित हुए इस कार्यक्रम को 2 मिलियन से अधिक लोगों ने देखा. बता दें कि प्रतियोगिता के विनर को ट्रॉफी, सम्मान पत्र, गिफ्ट हैंपर, पर्सनल वेबसाइट, डिजिटल ब्रांडिंग, एक्सक्लूसिव प्रिंट व ऑनलाइन इंटरव्यूज आदि से सम्मानित किया जाएगा।


द अल्टीमेट जूनियर जगजीत सिंह खिताब अपने नाम करने वाले महेश राव ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि, “मैं ट्रूपल चैनल का आभार व्यक्त करता हूँ कि जगजीत जी जैसी महान शख्सियत के साथ मुझे सम्मानित होने का अवसर प्रदान दिया। इस तरह के कार्यक्रम छोटे शहरों से आने वाले कलाकारों के लिए प्रोत्साहन का कार्य करते हैं, साथ ही संगीत जगत में अपनी अलग पहचान बनाने का अवसर भी उपलब्ध कराते हैं।”
फिनाले में देश के अलग-अलग हिस्सों से चुने गए टॉप-5 प्रतिभागियों ने जगजीत जी की नॉन फ़िल्मी ग़ज़ल प्रस्तुत की, जिसके बाद टॉप-3 का चुनाव किया गया, वहीं स्पेशल टास्क में सबसे बेहतरीन प्रस्तुति देने के लिए महेश को देश के दूसरे जूनियर जगजीत सिंह खिताब से नवाज़ा गया। कार्यक्रम में म्यूजिक डायरेक्टर, सिंगर प्रमोद भट्ट मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे, जिन्होंने संगीत की बारीकियों को प्रतिभागियों और दर्शकों के साथ शेयर किया। सीजन-2 में जज रहे, खुमार फाउंडर बिपिन आर. पंडित ने कहा, “सभी प्रतिभागियों ने उम्मीद से अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे ख़ुशी है कि जगजीत जी के विशाल व्यक्तित्व के बैनर तले, इस शो को और बेहद काबिल प्रतिभाओं को तराशने का अवसर मिला। अतुल मालिकराम जी के इस विचार की मैं बेहद सराहना करता हूँ, यह शो, गजल और जगजीत को अमर बनाये रखने की बेहतरीन पहल है।


चैनल के को-फाउंडर अतुल मलिकराम ने प्रतिभागियों के बेहतर भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि, “महेश राव जी ने पहले सीजन से बाहर होने के बाद हार नहीं मानी, और दूसरे सीजन में अधिक तैयारी के साथ पेश हुए, जाहिर है जो आपकी प्रस्तुति में भी देखने को मिली।” चैनल हेड इक़बाल पटेल ने बताया, “देश में गजल प्रेमियों की कोई कमी नहीं है, और इसका अंदाजा 14-15 साल के बच्चों की गजल और जगजीत जी में रूचि से लगाया जा सकता है। हमारे साथ बंगाल से लेकर मद्रास तक के ग़ज़ल प्रेमी जुड़े।
प्रतियोगिता में देश के अलग-अलग हिस्सों से आए, 200 से अधिक प्रतिभागियों में टॉप-5 को अंतिम चरण में जगह बनाने का मौका मिला। मखमली आवाज के ‘जूनियर जादूगर’ का तमगा अपने नाम करने के लिए, मुन्नवर राशिद खान (कोलकाता, वेस्ट बंगाल), धनाश्री (वड़ोदरा, गुजरात), तस्मीन कौर (लुधियाना, पंजाब), महेश राव (गुना, मध्य प्रदेश) और किंजल श्रीवास्तव (कानपुर, उत्तर प्रदेश) के बीच फाइनल जंग देखने को मिली।
पिछले साल जयपुर के अखिल सोनी ने देश के पहले जूनियर जगजीत की ट्रॉफी अपने नाम की थी। वहीं इस बार 10 अक्टूबर से शुरू हुई इस प्रतियोगिता में 5 ऑडिशन राउंड से कुल 14 प्रतिभागियों को सेमीफाइनल में पहुंचने का मौका मिला, इसमें से कुल पांच जूनियर्स को फाइनल में जगह मिली।
सामाजिक सरोकार से जुड़े मुद्दों को उठाने के लिए बेहद कम समय में लोकप्रिय हुए ट्रूपल चैनल पर जल्द ही भारत के भविष्य से जुड़े ग्रैंड टॉक शो #2030KaBharat में देश के युवा दिग्गज राजनेताओं को सतत विकास से जुड़े सभी लक्ष्यों पर अपनी विचार रखते देखा जाएगा। दूसरी तरफ बुंदेलखंड को स्वतंत्र राज्य बनाने की मांग को बुलंद कर रहे, चैनल के बुंदेलखंड विंग ने, अपनी ग्राउंड रिपोर्टिंग के साथ आत्मनिर्भर युवा, बुंदेली शेफ जैसे वर्चुअल कार्यक्रमों के माध्यम से बुंदेली दर्शकों में मजबूत पकड़ बना ली है।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें: Contacttroopel@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − 10 =