चोरी के 144 मोबाइल फोन के साथ एक रिसीवर और एक चोर को गिरफ्तार , एक स्कूटी बरामद

रिपोर्ट :नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-दक्षिण पश्चिम जिले के AATS स्टाफ की टीम हॉलीवुड फिल्म से प्रेरित होकर क्षेत्र में मोबाइल फोन चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले एक रिसीवर सहित दो चोर को गिरफ्तार किया है बता दें कि यह गिरफ्तारी एक गुप्त सूचना के आधार पर की गई है गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से 144 मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं और अपराध में इस्तेमाल एक स्कूटी को भी जप्त कर लिया गया है गिरफ्तार आरोपियों की पहचान राहुल उर्फ पेपर निवासी समालखा कापसहेड़ा दिल्ली और सौरव वशिष्ठ निवासी समालखा कापसहेड़ा दिल्ली के रूप में की गई है बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी नशे की लत को पूरा और जल्दी अमीर बनने के चक्कर में एक हॉलीवुड फिल्म से प्रेरित होकर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे।

दक्षिण पश्चिम जिले के पुलिस उपायुक्त मनोज सी ने पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देश को ध्यान में रखते हुए दक्षिण पश्चिम जिले के घर में चोरी के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए और उन पर छानबीन करने के लिए AATS की टीम का गठन किया गया था टीम लगातार छानबीन कर रही थी जिले के मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट चोरी के मामलों को हल करने का भी काम सौंपा गया था टीम ने इस संबंध में गुप्त मुखविरों को भी तैनात कर दिया गया था इसी बीच टीम को एक चोरी के संपत्ति के रिसीवर के बारे में गुप्त सूचना प्राप्त हुई जिसके बाद छापेमारी के लिए एसीपी देवेंद्र कुमार सिंह ने इंस्पेक्टर गौतम मलिक के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया जिसमें एसआई सुरेश एसआई चंदन एएसआई प्रवीण हेड कांस्टेबल मोहित रविंदर राकेश और कॉन्स्टेबल छगन को शामिल किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार इस टीम ने एक जाल बिछाया और एक स्कूटी पर सवार दो व्यक्ति जो अपनी स्कूटी पर एक बड़ा बैग और बॉक्स लेकर जा रहे थे उन्हें रोक लिया जांच करने पर बैग के अंदर से किड्स फ्लाई कंपनी के कुल 144 मोबाइल फोन बरामद किए गए पूछताछ करने पर दोनों आरोपियों की पहचान राहुल और सौरभ वशिष्ठ के रूप में हुई पूछताछ के दौरान आरोपी राहुल ने खुलासा किया कि उसने अपने एक साथी जो कि नाबालिग है उसकी मदद से कापासेड़ा क्षेत्र से एक मोबाइल शॉप से मोबाइल फोन चुराए थे यह लोग हॉलीवुड फिल्म इटालियन जॉब से प्रेरित थे सौरव वशिष्ठ मोबाइल फोन का रिसीवर है और वे चोरी के मोबाइल फोन को किसी अन्य स्थान पर उसको करने के लिए ले जा रहे थे ताकि आगे की कार्यवाही के लिए मेवात के क्षेत्र में इसे बेचने के लिए पूरा किया जा सके इस काम में एक नाबालिग ने उनकी मदद की थी आरोपी राहुल अपना गुनाह कबूल कर लिया उसने बताया नशे की लत और अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए जल्दी पैसा कमाने के लिए इसलिए उसने अपराध किया सौरभ वशिष्ठ ने खुलासा किया कि उन्होंने चोरी के मोबाइल फोन के अच्छे दामों पर बेचने और अमीर बनने की अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए वह भी शामिल हो गया फिलहाल इस मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनके खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + eight =