गृहमंत्री अमित शाह मिलने पहुंचेंगे 26 जनवरी में घायल हुए जवानों से अस्पताल में

रिपोर्ट :- कशिश

नई दिल्ली :-26 जनवरी गणतंत्र दिवस देश के हर एक सैनिक और व्यक्ति के लिए काफी है ज्यादा इतिहास पूर्वक रहता है। लोगों को इस दिन का  काफी बेसब्री से इंतजार होता है, क्योंकि इस दिन अलग-अलग तरह के परेड निकलती है। जो लोग घर पर बैठकर भी देखते हैं और कुछ लोग राजपथ के पास भी पहुंचते हैं।

आपको बता दे इस बार की यानी 2021 की 26 जनवरी थोड़ी अलग थी, क्योंकि किसानों का चल रहा लगातार धरना प्रदर्शन जो कृषि बिल के खिलाफ है, उसको लेकर किसानों का कहना था कि 26 जनवरी का दिन बनाने का हमें भी अधिकार है। इसलिए हम लोगों को भी परेड निकालने की अनुमति दी जाए और जिसके लिए सरकार और दिल्ली पुलिस के साथ बैठक की गई और उनको अनुमति दे दी गई कि 12:00 बजे से 5:00 बजे तक परेड निकालने की अनुमति दी।  जिसमें काफी ऐसे एनओसी के पॉइंट्स थे, जिन पर किसानों से साइन भी करवाया गया।

वही जब ट्रैक्टर ट्रॉली परेड निकालने की बारी आई तब धीरे-धीरे करके दंगा भड़कता हुआ दिखाई दिया। किसान अपने ट्रैक्टर ट्रॉली परेड के लिए अलग-अलग जगह से निकले और लाल किले तक पहुंच गए, जिसमें दिखाई दिया कि परेड पूरी तरीके से दंगे का रूप ले चुकी है। पुलिस कर्मियों के साथ अन्य लोगों के साथ भी मारपीट करते हुए किसान दिखाई दे रहे थे।

जितने काफी लोग घायल भी हुए हैं, पुलिस कर्मियों की बात की जाए तो तकरीबन 400 पुलिसकर्मी इस दंगे में घायल हुए हैं जिनसे मिलने गृह मंत्री अमित शाह अस्पताल में पहुंचेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − one =