कोविड बढ़ रहा है लेकिन दिल्ली सरकार की तैयारी नाम मात्र की:- चो .अनिल कुमार

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-कहाँ है 5000 हेल्थ असिस्टेंट जिनको दिल्ली सरकार ने कोविड के बढ़ते मरीजों की देखभाल के लिए ट्रेनिंग दी थी?- चौधरी अनिल कुमार, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा कि बढ़ते कोविड संक्रमण के कारण राजधानी के हालात बद से बदतर हो रहे हैं क्योंकि कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने कोई तैयारी नही की है। स्वास्थ्य इन्फ्रास्ट्रक्चर पूरी तरह से विफल साबित हो रहा है। दिल्ली के अस्पतालों मेंडाक्टर, नर्स, पेरामेडिकल व सहायक स्टाफ की भारी कमी कोविड संकट का बड़ा करण बन सकती है क्योंकि कार्यरत डाक्टर भी बड़े पैमाने पर संक्रमित हो रहे हैं। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दूसरी लहर के उपरांत केजरीवाल सरकार ने 5000 हैल्थ असिस्टेंट को ट्रेनिंग देकर महामारी में संकट के समय स्वास्थ्य सेवाओं में लगाने की बात कही थी। आज जब राजधानी में कोविड संक्रमण दर लगभग 12 प्रतिशत तक पहुंच गई है, तब  दिल्ली सरकार को इन हैल्थ असिस्टेंटों की सेवा लेनी चाहिए।


उन्होंने ने कहा कि कोविड की जिस तीसरी लहर की घोषणा विशेषज्ञ कर रहे थें।उसमें प्रतिष्ठित मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रतिदिन एक लाख संक्रमण के मामले सामने आ सकते हैं और अब डाक्टर भी मान रहे है कि तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में दूसरी लहर के दौरान सबसे अधिक 28,254 केस एक दिन में आए थे और कल एक दिन में 94 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी के साथ 10,665 पॉजिटिव मामले सामने आए।चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि प्रतिदिन संक्रमितों की बढ़ती गिनती के आगे केजरीवाल का गुमराह करने का दावा कि हमारे पास 30,000 बेड उपलब्घ है, पूरी तरह से दिल्लीवालों के साथ नाइंसाफी है क्योंकि सच्चाई यह है उनके पास महज 8000 बेड ही उपलब्ध है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरस्त करने के लिए डॉक्टरों, नर्स, परामेडिकल तथा उनके परिवार को संक्रमण से बचाने के लिए केजरीवाल को कोई विशेष आवासीय तथा ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था करनी चाहिए। जिसके लिए अभी तक केजरीवाल सरकार ने कुछ नहीं किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one + thirteen =