कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट का कोई भी गंभीर मामला सामने नहीं आया है- सत्येंद्र जैन

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली:-दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में कोरोना की स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है। दिल्ली सरकार कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है। हमारा हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पूरी तरह से दुरुस्त है। सरकार के विशेषज्ञों के मुताबिक डेल्टा वेरिएंट के मुक़ाबले ओमिक्रॉन वेरिएंट कम घातक है। इसमे मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की ज़रूरत नहीं पड़ रही है। दिल्ली में फिलहाल किसी भी मरीज को ऑक्सीजन लगाने की जरूरत नहीं पड़ी है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि इलाज से बेहतर रोकथाम है। घर से बाहर निकलते वक़्त मास्क पहनकर निकले, इससे ज़्यादातर मामलों को रोका जा सकता है। दिल्ली में सैंकड़ों की संख्या में वैक्सीन केंद्र बने हुए हैं। जहां प्रति दिन 3 लाख वैक्सीन लगाने की क्षमता है।

उन्होंने कहा कि हम 15 से 18 साल के बच्चों को वैक्सीन लगाने के लिए पूरी तरह अपने संसाधनों के साथ तैयार हैं। हमारे पास बूस्टर डोज़ के लिए भी पर्याप्त मात्रा में स्टॉक मौजूद है। कोरोना के मध्यनजर दिल्ली सरकार ने बच्चों के लिए 3 हजार से भी अधिक बेड की व्यवस्था की गयी है। सभी स्वास्थ्य कर्मियों को इसकी तैयारी से जुड़े ख़ास निर्देश और ट्रेनिंग दी गयी है। कोविड के वेरिएंट कई सारे हैं, किसी खास वेरिएंट के लिए अलग से कोई खास प्रोटोकॉल या इलाज की प्रक्रिया नहीं है।

उन्होंने कहा कि लोग आजकल ओमिक्रोन के टेस्ट की मांग कर रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि ओमिक्रोन की जानकारी सिर्फ और सिर्फ सरकार और नियम बनाने वाली संस्थानों के लिए ज़रूरी है, ताकि वे उसके हिसाब से व्यवस्था सुनिश्चित कर सकें। मरीजों को कोरोना के वेरिएंट के बारे में जानकार भी कुछ नया हासिल नहीं होगा। क्योंकि अन्य कोरोना के वेरिएंट के लिए जो इलाज़ कि प्रक्रिया है बिलकुल वही प्रक्रिया ओमिक्रोन के वेरिएंट के लिए भी है। ओमिक्रोन वेरिएंट कोरोना का ही वेरिएंट है। इसके इलाज़ एवं इससे बचने का प्रोटोकॉल भी पहले की तरह ही है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के लोगों से कोरोना से संबंधित नियमों का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने लोगों से सार्वजनिक जगहों पर सुरक्षा के लिए मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं है। केवल सावधानी ही इसका बचाव है। सभी लोग मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 4 =