कोरोना काल के चलते जहां लोगों को इस बड़ी आपदा का सामना करना पड़ रहा है वहीं गर्मी भी अपने पूरे जोरों पर है

रिपोर्ट :- यश भरद्वाज

उत्तर प्रदेश:- कोरोना काल के चलते जहां लोगों को इस बड़ी आपदा का सामना करना पड़ रहा है वहीं गर्मी भी अपने पूरे जोरों पर है मौसम विभाग के मुताबिक एनसीआर में बारिश की आशंका तो थी लेकिन ऐसा कुछ होता नहीं दिखाई दे रहा और गर्मी बढ़ने का एक बहुत बड़ा कारण जलवायु परिवर्तन भी है। पिछले बहुत समय से लोगों की बढ़ती खपत और मांग को पूरा करने के लिए CO2 उत्सर्जन हो रहा है जिसके कारण तापमान में बहुत बढ़ोतरी हुई है विशेषज्ञ बताते हैं कि अगर ऐसा ही चलता रहा तो पृथ्वी का तापमान 2 से 3 डिग्री बढ़ जाएगा जिससे हवाओं का दबाव बढ़ने के कारण वर्षा और प्राकृतिक आपदाओं में वृद्धि होगी। जिसका बहुत बड़ा अंजाम मनुष्य जाति से लेकर जानवरों तक को देना पड़ेगा। समुंद्र का जलस्तर व तापमान प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है जिससे छोटे-मोटे कई तरह के जीव विलुप्त होते जा रहे हैं। इंसानों द्वारा की गई गंदगी और गलती का अंजाम जानवरों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ रहा है। पर्यावरण से छेड़छाड़ करना इंसान तथा जानवरों को बहुत भारी पड़ रहा है। पेड़ लगाने और पेड़ कटने की संख्या में बहुत बड़ा अंतर है जिसके कारण गर्मी बढ़ती जा रही है और विशेषज्ञों का कहना है कि अगर हमें पृथ्वी के तापमान को सही रखना है तो हमें ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने होंगे और कम से कम CO2 का उत्सर्जन करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =