केजरीवाल सरकार दिल्ली वालों को स्वस्थ्य रहने के लिए फ्री में कराएगी योग, जनवरी से शुरू होंगी योग की क्लासेज

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

25 लोगों का एक ग्रुप 9013585858 पर मिस्ड कॉल करता है, तो दिल्ली सरकार योग कराने के लिए निःशुल्क शिक्षक मुहैया कराएगी- अरविंद केजरीवाल

*- दिल्ली सरकार ने लोगों को योग सिखाने के लिए 400 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया है- अरविंद केजरीवाल

*- हमें उम्मीद है कि कम से कम 20 हजार लोग इस योग कार्यक्रम के जरिए योग करना शुरू देंगे – अरविंद केजरीवाल

*- मुझे लगता है कि दिल्ली को देखकर पूरे देश के अंदर भी योग शालाएं जरूर शुरू होंगी और लोगों के घर-घर तक योग पहुंचेगा- अरविंद केजरीवाल

दिल्ली वालों अपील, आपको बस एक मिस्ड कॉल कर यह सुनिश्चित करना है कि आप रोज सुबह योग की क्लास में जरूर आएंगे- अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली :-केजरीवाल सरकार, दिल्ली वालों को स्वस्थ्य रहने के लिए फ्री में योग कराएगी। आज दिल्ली सचिवालय में ‘‘दिल्ली की योगशाला’’ कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने योग और मेडिटेशन को जन आंदोलन बनाकर दिल्ली के घर-घर तक पहुंचाने के उद्देश्य से इस कार्यक्रम की शुरूआत की है। जनवरी से दिल्ली में जगह-जगह योग की क्लासेज शुरू होंगी। मैं समझता हूं कि पूरे देश में यह अपने किस्म का पहला कार्यक्रम है, जिसके तहत दिल्ली सरकार लोगों को फ्री में योग कराएगी। भागदौड़ की जिंदगी में आज आदमी का शरीर, मन और आत्मा स्वस्थ्य नहीं है, ऐसे में योग उनकी बड़ी मदद कर सकता है। सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 25 लोगों का एक ग्रुप 9013585858 पर मिस्ड कॉल करता है, तो दिल्ली सरकार योग कराने के लिए निःशुल्क शिक्षक देगी। इसके लिए 400 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है। मुझे उम्मीद है कि दिल्ली को देखकर पूरे देश के अंदर भी योग शालाएं जरूर शुरू होंगी और लोगों के घर-घर तक योग पहुंचेगा। दिल्ली वालों अपील है कि आपको बस एक मिस्ड कॉल कर यह सुनिश्चित करना है कि आप रोज सुबह योग की क्लास में जरूर आएंगे।

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने आज दिल्ली सचिवालय में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान ‘दिल्ली की योगशाला’ प्रोग्राम की शुरूआत की। ‘‘दिल्ली की योगशाला’’ प्रोग्राम की शुरूआत से पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समेत सभी गणमान्य लोगों ने हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए देश के पहले सीडीएस विपिन रावत को दो मिनट की भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इसके उपरांत मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दीप प्रज्वलित करके कार्यक्रम की शुरूआत की। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ विधायक आतिशी, टीटीई सचिव आर. एलिस वाज, डीपीएसआरयू के वाइस चांसलर प्रोफेसर रमेश के. गोयल समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

हमने पिछले सात साल में गवर्नेंस के क्षेत्र में कई नए-नए सफल प्रयोग किए, जिसकी चर्चा देश-विदेश में हो रही- अरविंद केजरीवाल

कार्यक्रम को संबोधित करते मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने पिछले सात साल में गवर्नेंस के क्षेत्र में कई नए-नए सफल प्रयोग किए और उनकी चर्चा देश और विदेश में हो रही है। हमने शिक्षा के क्षेत्र में खूब सारे प्रयोग किए। हैपीनेस क्लासेज, एंटरप्रिन्योर क्लासेज, देशभक्ति क्लासेज के प्रयोग किए और स्कूल बहुत अच्छे किए। इसी तरह, स्वास्थ्य के क्षेत्र में खूब सारे प्रयोग किए। बिजली के क्षेत्र में भी किए। लोगों को यकीन नहीं होता है कि दिल्ली में 24 घंटे और मुफ्त बिजली आती है। पहली बार ऐसा हो रहा है कि अब तीर्थ यात्रा पर लोग जा रहे हैं। दिल्ली सरकार आज एक और नया किस्म का काम करने जा रही है। हमने दिल्ली में अस्पताल और मोहल्ली क्लीनिक खूब बनाए। स्वास्थ्य व्यवस्था ऐसी की है कि अगर दिल्ली में किसी को कोई भी बीमारी हो, आपको पैसे की चिंता नहीं करनी है। आपको छोटी सी खांसी से लेकर बड़ी सर्जरी अगर 70-80 लाख रुपए की भी होगी, तो दिल्ली सरकार आपका सारा इलाज मुफ्त कराती है। आज हम जो प्रयोग करने जा रहे हैं, इससे हम चाहते हैं कि लोग बीमार ही न हों। लोग बीमार क्यों हों, बीमार होते हैं, तभी तो अस्पताल जाना पड़ेगा।

स्कूलों में शुरू हुए हैपीनेस क्लासेस से हमारे बच्चों का मन शांत होने लगा है- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि योग भारत की देन है। पूरी दुनिया को भारत ने योग सिखाया और भारत की देन है कि अब पूरी दुनिया में बहुत सारे लोग योग करने लगे हैं, लेकिन हम अपने देश में आम जिंदगी में जीते हुए योग नहीं करते। योग से आत्मा, मन और शरीर सब स्वस्थ्य रहते हैं। आज की आपा-धापी में जिंदगी बहुत तनावपूर्ण हो गई। हम देखते हैं कि कैसे सड़क पर लड़ाई हो जाती है। थोड़ा सा स्कूटर कार से टकरा गया, तो लोग लड़ पड़ते हैं। मन के अंदर शांति नहीं है। आदमी अंदर से बहुत ज्यादा बेचैन है। अस्वस्थ्य है। आदमी का शरीर भी स्वस्थ्य नहीं है, मन भी स्वस्थ्य नहीं है और आत्मा भी स्वस्थ्य नहीं है। ऐसे में योग बड़ी मदद कर सकता है। ऐसा नहीं है कि कल से योग क्लास शुरू होगी और परसो से सारे ओर शांति-शांति आ जाएगी, ऐसा नहीं होने वाला है। लेकिन इसकी शुरूआत अवश्य हो जाएगी और धीरे-धीरे समाज में परिवर्तन जरूर दिखाई देगा। जब स्कूलों के अंदर हमने हैपीनेस क्लासेज शुरू की थी, हमें भी नहीं पता था कि बच्चों के अंदर इतना जबरदस्त परिवर्तन आने लगेगा। हर स्कूल के अंदर 45 मिनट की हैपीनेस क्लासेज होती है और उसमें थोड़ा मेडिटेशन और वैल्यू सिस्टम भी सिखाते हैं। उनके माता-पिता ने बताया कि इससे बच्चों का मन शांत होने लगा है। मैं समझता हूं कि जब योग क्लासेज शुरू होगी और जो-जो लोग योग क्लास में शामिल होंगे, वे भी अपने जीवन में शांति महसूस करेंगे और उनको बीमारियां कम लगेंगी और जो बीमारियां हैं, वो ठीक होनी चालू हो जाएंगी। मुझे इस बात की बहुत ही खुशी है कि आज यह कार्यक्रम शुरू हो रहा है।

दिल्ली सरकार लोगों को योग सिखाने के लिए मुफ्त में शिक्षक मुहैया कराएगी – अरविंद केजरीवाल

मुख्यंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोग योग क्यों नहीं करते हैं? मैंने बहत लोगों से जानना चाहा, तो पता चला कि इसमें सबसे बड़ी दिक्कत यह होती है कि उनको योग सिखाने वाला कोई नहीं है। अगर वे योग सिखाने के लिए कोई शिक्षक रखें, तो यह शिक्षक बहुत महंगे हैं। इसलिए शिक्षक रखने के लिए पैसे नहीं हैं। इसके अलावा, अनुशासन नहीं है। एक-दो दिन योग कर लिया और फिर छोड़ देते हैं। इस सब दिक्कतों को ध्यान में रखते हुए हमने दिल्ली की योगशाला कार्यक्रम शुरू किया। हमने कहा कि योग सिखाने के लिए शिक्षक दिल्ली सरकार देगी। आपको पैसे देने की कोई जरूरत नहीं है। आप 25 लोग इकट्ठे होकर हमें मोबाइल नंबर 9013585858 पर मिस्ड कॉल करो। आप अपने आसपास कोई जगह तलाश लीजिए, जहां आप योग करना चाहते हैं, वहां पर दिल्ली सरकार योग सिखाने के लिए शिक्षक देगी और इसका कोई खर्चा नहीं होगी। मैं समझता हूं कि बड़ी संख्या में लोग इसमें भाग लेंगे। हम लोगों ने इसको इस साल के फरवरी महीने में शुरू किया और बजट पास किया।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने योग की क्लास में भाग लेने के लिए जारी किया मिस्ड कॉल नंबर

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने टीटीई की पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि मुझे उस समय लगा था कि शिक्षकों को प्रशिक्षित करने में दो-तीन साल लगेंगे। टीटीई टीम ने महज 8 महीने के अंदर इसको कार्यान्वित कर दिया और आज मिस्ड कॉल नंबर 9013585858 जारी किया जा रहा है। हमारे लगभग 400 शिक्षक तैयार हो चुके हैं। मिस्ड कॉल नंबर पर जो लोग भी मिस्ड कॉल करेंगे, उनको हम शिक्षक उपलब्ध कराएंगे। जनवरी 2022 में योग सिखाने का यह कार्यक्रम शुरू होगा। एक क्लास में 25 लोग हो तो अच्छा है, लेकिन इससे ज्यादा होंगे, तो और भी अच्छा है। मैं समझता हूं कि कम से कम 20 हजार लोग इस योग कार्यक्रम के जरिए योग करना शुरू कर देंगे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि यह शानदार कार्यक्रम शुरू हो रहा है। मैं समझता हूं कि पूरे देश में यह अपने किस्म का पहला कार्यक्रम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − three =