केजरीवाल देंगे किसानों को मुफ्त वाई-फाई की सौगात

रिपोर्ट :- दौलत शर्मा

नई दिल्ली: दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर धरना दे रहे किसानों को आम आदमी पार्टी ने मुफ्त वाई-फाई की सुविधा देने को कहा है। पंजाब के सह-प्रभारी और दिल्ली जल बोर्ड अध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा कि किसानों के आंदोलन को गति देने में परेशानी न हो इसके लिए पार्टी ने यह फैसला किया है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि केंद्र को जल्द अड़ियल रवैया छोड़कर किसानों की मांगों को पूरा करना चाहिए किसानो को इस तरह परेशान ना करें,नहीं तो केंद्र सरकार को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

चंडीगढ़ आप मुख्यालय में मंगलवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में वर्चुअल रूप से शामिल होकर राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्ली सरकार देश के अन्नदाता को आंदोलन के दौरान सुविधाएं देने के लिए एक सेवादार के तौर पर काम कर रही है। अब राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने फैसला किया गया है कि आंदोलन स्थान पर वाईफाई हॉटस्पॉट लगाए जाएंगे। अपने घरों से कोसों दूर बैठे किसानों को अपने परिवार के साथ बात करने में मुश्किल आ रही थी। इसी को ध्यान में रखते हुए पार्टी ने यह फैसला किया है। किसान जहां कहेंगे, वहीं वाई-फाई की व्यवस्था की जाएगी। फिलहाल इसकी शुरुआत सिंघु बॉर्डर से की जाएगी। किसानों की मांग के अनुसार हर बॉर्डर में वाई-फाई की व्यवस्था की जाएगी।

किसान अब आंदोलन में शामिल होकर भी अपने परिवार के साथ वीडियो कॉल कर सकेंगे। भाजपा और मोदी सरकार के मंत्रियों की ओर से किसान आंदोलन के खिलाफ प्रचार किया जा रहा है। अब किसान सोशल मीडिया से भाजपा के गलत प्रचार का जवाब भी दे सकेंगे। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि आंदोलन कितना लंबा चलेगा यह सरकार के हाथ में है। यदि सरकार किसानों की मांगों को स्वीकार कर लेती है तो सिर्फ कुछ मिनटों में ही किसानों का संघर्ष खत्म हो जाएगा। लेकिन भाजपा लगातार किसानों को परेशान कर रही है जिससे किसान भी और दिल्ली वाले भी परेशान हैं।

आपको बता दें लगातार 35 दिन इस किसान आंदोलन को हो चुके हैं और किसान लगातार अपनी मांगों को लेकर सिंघु बॉर्डर गाजीपुर बॉर्डर व अन्य कई बॉर्डर पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन पर हैं और अभी तक केंद्र सरकार और किसानों के बीच मध्यस्तान नहीं बन पाई है 30 दिसंबर को किसानों और केंद्र सरकार के बीच बातचीत होनी है उसके बाद ही कुछ साफ हो पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + thirteen =