केंद्र सरकार का जत्थेबंदियों में फूट डालने और कच्चा समझौता करने में कामयाब नही होने देंगे :पन्नू

रिपोर्ट :- कुलजीत सिंह

जंडियाला गुरु:-किसान मज़दूर सँघर्ष कमेटी पंजाब के प्रधान सतनाम सिंह पन्नू और राज्य सचिव सरवन सिंह पंधेर ने कहा कि हमे कोई बुलावा पत्र गृह मंत्री की मीटिंग का नही आया ।उन्होंने कहा कि मोदी सरकार कृषि कानून वापिस लेने की जगह ,जत्थेबंदियों में फुट डालने की कोशिश में व्यस्त है।

सरकार अपने स्तर पर 70 प्रतिशत कानूनों में सोध का दावा कर सकती है और इनको अपने द्वारा खड़ी की जत्थेबंदियों द्वारा किसानों की जीत के तौर पर उभार सकती है उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की फुट डालने की कोशिश को कामयाब नही होने देंगे। उन्होंने ने कहा कि किसान मज़दूर जत्थेबंदी में विश्वास रखें ,अब हम कृषि कानून को रद्द करवा कर ही रहेंगे।

नेताओं ने कहा कि दिल्ली कूच करने के तैयारियों के लिए दूसरा बड़ा जत्था 25 हज़ार से 50 हज़ार की गिनती में 11 दिसंबर को रवाना होगा ।वैसे हर रोज़ 20 से 25 वाहन दिल्ली जा रहें हैं ।राज्य की कोर कमेटी यह तय करेगी कि दूसरे काफ़िले की अध्यक्षता कौन नेता करेंगे ।कुंडली बॉर्डर दिल्ली में मोर्चे की।अध्यक्षता कर रहे सुखविंदर सिंह सभरा ने कहा कि वह केंद्र सरकार की धोखा देने वाली नीति के चलते बातचीत में शामिल नहीं हो रहे।


मीटिंग का सकारात्मक नतीजा निकालने के लिए प्रधानमंत्री खुद मीटिंग करें और देश की।सभी किसान जत्थेबंदियों को बुलावा दें आज जंडियाला में रेल रोको आंदोलन 78 वें दिन भी जारी रहा है मोर्चे की अध्यक्षता कर रहे हरप्रीत सिंह सिधवां और सतनाम सिंह मनोचाहल ने कहा कि कल भारत बंद में हमारी जत्थेबंदी में 50 हज़ार से ज्यादा लोगों ने भाग लिया और उन्होंने ने इसमें शामिल होने पर लोगों का धन्यवाद भी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − seven =