किसान आंदोलन के कारण बढ़ी हरियाणा विधानसभा बजट सत्र की तारीख

रिपोर्ट -दौलत शर्मा

हरियाणा –हरियाणा विधानसभा का बजट सत्र 5 मार्च से शुरू होगा। सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में चंडीगढ़ सिविल सचिवालय में हुई मंत्रिमंडल बैठक में यह निर्णय लिया गया है। किसान आंदोलन के चलते मार्च में सत्र बुलाने का निर्णय लिया गया है। सरकार को उम्मीद है कि फरवरी महीने में किसान आंदोलन निपट सकता है। अमूनन फरवरी के अंतिम सप्ताह में सत्र बुलाकर मार्च के पहले हफ्ते बजट पेश कर दिया जाता था। इस बार 10 मार्च को बजट पेश हो सकता है। मंत्रीमंडल बैठक में जनहित से जुड़े अनेक अहम निर्णय लिए गए हैं। खिलाड़ियों की पौ बारह हुई है तो एचआरडीएफए कर्मचारियों को अन्य की तरह पेंशन मिलेगी।

चंडीगढ़ सिविल सचिवालय में सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई बैठक के फैसलों की जानकारी शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने दी। उन्होंने बताया कि ओलंपिक में प्रतिभागिता करने वाले खिलाड़ियों को 5 लाख रुपये अग्रिम भुगतान करने का फैसला लिया गया है। खिलाड़ियों के लिए कुछ नए पद सृजित किए जाएंगे।

एचआरडीएफए के कर्मचारियों को भी अन्य कर्मियों की तरह पेंशन का लाभ मिलेगा। एनसीआर से एनसीआर में आने वाले ऑटो रिक्शा व टैक्सियों से टैक्स नहीं लिया जाएगा। हैफेड 16 जगहों पर अपने गोदाम बनाएगा। टोल रोड की सड़कों की मरम्मत कर वसूली वाली कंपनियां ही करेंगी। महेंद्रगढ़ से अटेली रोड पर टोल हटाने का फैसला सरकार ने लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − nine =