एक मां ने किया अपने बच्चे के लिए प्रोटेस्ट मार्च जेएनयू के छात्र नजीब को गायब हुए 3 साल हो गया

रिपोर्ट:- R Soni News डेस्क

नई दिल्ली:-  एक मां ने किया अपने बच्चे के लिए प्रोटेस्ट मार्च जेएनयू के छात्र नजीब को गायब हुए 3 साल हो गया 14 अक्टूबर 2016 को  नजीब जेएनयू से अचानक गायब हो गया था जिसके बाद कैंपस में जम के प्रदर्शन हुआ था 3 साल बीतने के बाद 14 अक्टूबर को एक बार फिर प्रोटेस्ट कि वह यादें ताजा हो गई जब जेएनयूएसयू के छात्रों ने नजीब की अम्मी के साथ कैंपस में प्रोटेस्ट मार्च निकाला और एडमिन ब्लॉक पर नजीब के नाम की मोमबत्ती जलाई सरकार विरोधी नारे और नजीब को वापस लाने के नारों के साथ जेएनयू कैंपस में एक बार फिर 14 अक्टूबर को नजीब के लिए प्रोटेस्ट मार्च निकाला गया।

2016 में 14 अक्टूबर को नजीब अचानक गायब हो गया था जिसके बाद से दिल्ली पुलिस से लेकर सीबीआई तक नजीब की जांच में जुट गई लेकिन अभी तक कोई ठोस जवाब कहीं से भी नहीं मिला है जेएनयूएसयू  और लिफ्ट समर्थक छात्रों का शुरू से आरोप था की नजीब को कैंपस से गायब करने में एबीवीपी के  छात्रों का हाथ है हालांकि यह हमेशा से जांच का विषय रहा है 3 साल बाद एक बार फिर अपने उसी मांगों को लेकर नजीब की अम्मी के साथ जेएनयू कैंपस में सैकड़ों छात्रों ने मार्च निकाला और Administration Building पर मोमबत्ती जलाकर अपना गुस्सा जाहिर किया नजीब की मा ने एक के बाद एक कई आरोप लगाए एबीवीपी के छात्रों को गुंडा कहा तो जेएनयू के प्रशासन को निक्कर पेंट वाले संगी बोल कर संबोधित किया सरकार और प्रशासन के खिलाफ जम के खरी खोटी सुनाई।

गंगा ढाबे से निकला छात्रों का यह प्रदर्शन पूरे कैंपस में घूमता हुआ जेएनयू प्रशासन भवन के पास खत्म हुआ जहां पर नजीब की मम्मी ने सरकार के खिलाफ कई सारे बातें कहीं अपने स्पीच के दौरान जेनी के प्रशासन और देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ  अपशब्द बातें बोली ( आज तक किसी प्रधानमंत्री को इतना गाली नहीं पढ़ा होगा कुत्ता बोला जाता है) फिलहाल जेएनयू छात्र संघ और लेफ्ट यूनिटी के छात्र इस प्रदर्शन को और आगे बढ़ाएं और 15 अक्टूबर को जंतर मंतर पर बढ़ा प्रदर्शन करेंगे।

काफी दिनों के बाद जेएनयू मैं होने वाला प्रोटेस्ट मार्च एडमिन्सट्रेशन बिल्डिंग पर आकर खत्म हुआ है प्रशासन ने काफी दिनों पहले यह नोटिस जारी किया था की प्रशासन भवन से 100 मीटर की दूरी तक किसी तरह का प्रदर्शन करना मना है लिहाजा  छात्र इस बात से बेपरवाह होकर अपना प्रदर्शन  को जारी रखा वही नजीब की मां को पूरा भरोसा है कि उसका लड़का 1 दिन वापस जरूर आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 11 =