आर्थिक संकट से जूझ रहे लोग निजी अस्पतालों में बूस्टर डोज लगवाने की स्थिति में नहीं -चौ.अनिल कुमार

रिपोर्ट :- नीरज अवस्थी

नई दिल्ली :-दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केन्द्र सरकार ने 18 वर्ष से उपर के सभी लोगों को 10 अप्रैल से कोविड बूस्टर की मंजूरी देकर एक बार फिर नीजि अस्पतालों की जेब भरने की पहल शुरु कर रही है क्योंकि बूस्टर डोज सरकारी अस्पतालों में नही मिलेगी केन्द्र सरकार ने यह भी स्पष्ट किया गया है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दिल्ली की जनता को निशुल्क बूस्टर डोज लगवाने की जिम्मेदारी लें और दिल्ली की जनता को निशुल्क वैक्सीन लगाने का अपना वायदा पूरा करे क्योंकि कोविड महामारी और असहनीय बेलगाम महंगाई से दिल्लीवालों की कमर पहले से ही टूटी हुई है।

अब दिल्लीवासी बूस्टर डोज़ का अतिरिक्त बोझ सहने की स्थिति में नही है। अनिल कुमार ने कहा कि डीडीएमए की गाईडलाईन के तहत कोविड नियमों के पालन में ढील के बाद पिछले 4-5 दिन से लगातार कोविड केसों में वृद्धि हो रही है।जिसको केजरीवाल सरकार पूरी तरह नजरअंदाज कर रही है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल दिल्ली के लोगों को कोविड बूस्टर डोज की जिम्मेदारी लेते हुए सभी प्राईवेट अस्पतालों को निर्देश जारी करें कि बूस्टर डोज मुफ्त दे और सरकारी अस्पतालों में भी बूस्टर डोज को सुनिश्चित करें क्योंकि पहली और दूसरी डोज़ सरकारी अस्पतालों में मुफ्त लग रही है।चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 18 वर्ष से उपर के लोगों को बूस्टर डोज़ की घोषणा से पहले सरकार ने फ्रंटलाईन, स्वास्थ्य कर्मियों और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को मंजूरी दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + 12 =