आम आदमी पार्टी मांग करती है कि संजय अग्रवाल और बी.के ओबरॉय पर क्रिमिनल केस दर्ज हो और मामले की पूरी जांच कराई जाए- सोमनाथ भारती

रिपोर्ट :/ नीरज अवस्थी

नई दिल्ली: ‘आप’ विधायक सोमनाथ भारती ने कहा कि बीजेपी एमसीडी ने मंगलापुरी श्मशान घाट पर लकड़ी और शवों को जलाने में घोटाला किया है। एमसीडी दाह संस्कार की लकड़ी और सामग्री मंहगे दामों पर बेच रही, शवों की एंट्री में भी गड़बड़ी की। श्मशान घाट को जिला महरौली के भाजपा आरडब्ल्यूए अध्यक्ष संजय अग्रवाल का एनजीओ चला रहा है। साउथ एमसीडी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक में संजय अग्रवाल के खिलाफ कार्रवाई का प्रस्ताव रखा गया तो स्टैंडिंग कमिटी के चेयरमैन बी.के ओबरॉय ने उसे वापस कर दिया। सोमनाथ भारती ने कहा कि आम आदमी पार्टी मांग करती है कि संजय अग्रवाल और बी.के ओबरॉय पर क्रिमिनल केस दर्ज हो और मामले की पूरी जांच कराई जाए।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधायक सोमनाथ भारती ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित किया। सोमनाथ भारती ने कहा कि जिस प्रकार से इस मंच से कई साथियों ने कई बार बताया कि पिछले 15 सालों से एमसीडी में भाजपा का जो शासन रहा है, भाजपा ने एमसीडी को हर प्रकार से दुरुपयोग किया है। लिंटर के नाम पर क्या हो रहा है, दिल्ली की ज़मीने बेची जा रही हैं, स्कूलों को बंद किया जा रहा है, रिसोर्सेस का दुरुपयोग हो रहा है, भाजपा ने एमसीडी को कंगाल करने की ठान रखी है, कई बार कई चीजों को आपके माध्यम से दिल्ली की जनता को बताने का हमने प्रयास किया। आज जो हम बताने जा रहे हैं, उससे दिल्ली की जनता के होश उड़ जाएंगे कि क्या भाजपा इतनी नीचे गिर सकती है! मतलब जो पार्टी सिर्फ और सिर्फ हिंदुत्व के नाम पर वोट बोटरना चाहती है, वह पार्टी इस कदर गिर सकती है और हिंदुओं की आस्था और परंपरा के साथ खिलवाड़ कर सकती है, इसका अंदाज़ा हमें भी नहीं था।

एक तरफ अरविंद केजरीवाल की देश में जो मुहिम है कि किस प्रकार से काम की राजनीति के जरिए देश की जनता को सहूलते पहुंचाई जाएं, देश की जनता को हर प्रकार से मजबूत किया जाए फिर चाहे वह शिक्षा हो, स्वास्थ्य हो, बिजली हो, पानी हो। वहीं, बहुत दुख होता है कि अभी भी भाजपा में इतना दुस्साहस है कि उनके बड़े-बड़े भ्रष्टाचारों के अनगिनत किस्से सुनाने के बाद भी वह भ्रषटाचार पर भ्रष्टाचार किए जा रही है। आज मेरे साथ साउथ एमसीडी के एलओपी प्रेम चौहान मौजूद हैं। मैं चाहूंगा कि पहले वह आपको बताएं कि किस प्रकार से एमसीडी में भाजपा ने भ्रष्टाचार की एक नई ऊंचाई, बड़े निर्लज्ज तरीके से पार किया है।

साउथ एमसीडी के नेता विपक्ष प्रेम चौहान ने कहा कि हमने इस मंच से भाजपा के कई भ्रष्टाचारों का सबूतों के साथ खुलासा किया है। आज भाजपा ने ऐसा अमानवीय कार्य किया है, इसकी हमें पहले भी कई बार शिकायते आई थीं, लेकिन हम चाहते थे कि इसपर राजनीति ना हो, लेकिन भाजपा के लोग अपनी जिंद पर अड़े रहे और आज हम आपके सामने इस मुद्दे को रखने जा रहे हैं। मंगलापुरी वॉर्ड में एक श्मशान घाट है। वहां से लोगों की शिकायते आ रही थीं कि जो लोग मर जाते हैं, उनके दाह संस्कार के लिए लकड़ी के पैसे ज्यादा लिए जा रहे हैं। अंतिम संस्कार में इस्तेमाल होने वाली अन्य जितनी भी सामग्री होती है, उनके भी पैसे ज्यादा लिए जा रहे हैं। मरने वालों की जो एंट्री की जाती है, उसकी गिनती भी गलत की जा रही है। यदि 100 लोगों का दाह संस्कार किया गया है तो अगले में उसे सीधा 999 का नंबर दिया गया।

जब हमें इसकी जानकारी मिली तो हमने अधिकारियों पर जांच का दबाव बनाया। जिसमें यह सब बातें सही पाई गईं। उस सत्यता के आधार पर स्टैंडिंग कमिटी की मीटिंग में अधिकारियों ने एक प्रस्ताव बनाया कि लकड़ी मंहगी बेचना और अन्य सामग्री मंहगी बेचना, मृत लोगों की गिनती में गड़बड़ी की जो शिकायतें हैं, वह सभी सत्य हैं। वर्तमान में जो भी एनजीओ इसे चला रहा है, उसे हटाकर नए एनजीओ को दिया जाए या एमसीडी अपने अधिकार क्षेत्र में इसे ले कि आगे इसपर कैसे काम करना है। प्रस्ताव नंबर 98 में श्री श्याम नवोदय संस्कृति संघ के नाम के एनजीओ की जानकारी दी गई। इसपर स्टैंडिंग कमिटी के चैयरमैन कर्नल बीजे ऑबरॉय, जो एक फॉजी रहे हैं, मुझे लगता है कि कहीं न कहीं तो उनमें इंसानियत रही होगी लेकिन इस प्रकार के मामले को उन्होंने वापस कर दिया। तो उनपर किसका दबाव था, भाजपा का कौन सा नेता इसमें मिला हुआ था, यह सब जब हमने जानने की कोशिश की तो हमें पता चला कि इसमें शामिल संस्था संजय अग्रवाल नाम के एक व्यक्ति की है। वर्तमान में वह व्यक्ति जिला महरौली से आरडब्ल्यूए संघ का भाजपा अध्यक्ष है। इसके अलावा भी कई संगठनों से वह भाजपा से जुड़ा रहा है।

सोमनाथ भारती ने आगे की जानकारी देते हुए कहा कि भाजपा के भ्रष्टाचार का स्तर इतना नीचे गिर गया है कि श्मशान घाट और मृत लोगों को भी नहीं छोड़ रहे हैं। लकड़ियों को मंहगे दामों में बेच रहे हैं, संस्कार सामग्री को मंहगे में बेच रहे हैं। उसपर बाकायदा पूरी रिपोर्ट आई। हमारे पास स्थाई समिति की बैठक की कार्य सूचि मौजूद है जिसमें यह रिपोर्ट मौजूद है। यह जानकर बहुत दुख हुआ कि जब इसे स्टैंडिंग कमिटी की बैठक में प्रस्तुत किया गया तो उसे वापस कर दिया गया। तो जिस मामले पर तुरंत सुनवाई होनी चाहिए थी, उसको वापस कर दिया गया। मैं हमेशा से कहता हूं कि समस्या एमसीडी में नहीं बल्कि एमसीडी में बैठी भाजपा में है।

दिल्ली के जिन स्कूलों में जानवर भी नहीं जाता था, आज केजरीवाल के नेतृत्व में वह पूरे विश्व में नाम कमा रहा है। यही एमसीडी, जिसमें भाजपा ने इस कदर भ्रष्टाचार किया हुआ है कि आज एमसीडी का हर विभाग कलंकित हो गया है। और आज उसका एक और नया उदाहरण सामने आया है कि अब वह श्मशान घाट में भी भ्रष्टाचार कर रहे हैं। क्यों सुनवाई नहीं की गई? उसे वापस क्यों कर दिया गया? आज टेक्नोलॉजी का ज़माना है, आम आदमी पार्टी पढ़े लिखे नेताओं की पार्टी है, तो हम तो सभी चीजें तुरंत निकाल लेते हैं। प्रस्ताव में जो एफिडेविट दिया गया था उसमें संस्था और उसके अध्यक्ष का नाम है। संस्था का नाम श्री श्याम नवोदय संस्कृति संघ है, जिसके अध्यक्ष संजय अग्रवाल हैं। यह वही संस्था है जो उस श्मशान घाट को चला रही है, जिसके हस्ताक्षर प्रस्ताव में मौजूद हैं।

वह राष्ट्रीय बालिका दिवस और अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा दिवस की शुभकामनाएं दे रहे हैं, जहां साफ-साफ लिखा हुआ है भाजपा जिला महरौली आरडब्ल्यूए संघ के अध्यक्ष संजय अग्रवाल बिट्टू। अब इससे बड़ा प्रमाण क्या हो सकता है। क्या इस आदमी को एक भी क्षण बाहर रहने का अधिकार है? भाजपा ने शर्मसार कर देने वाला काम किया है। यह मामला भाजपा के नेताओं को बेनकाब करता है। आम आदमी पार्टी मांग करती है कि इसपर संजय अग्रवाल और बीके ओबरॉय पर क्रिमिनल केस दर्ज हो और इसकी पूरी जांच कराई जाए। भाजपा जवाब दे कि इस प्रकार से एमसीडी के हर विभाग को जो खोखला करने का ठान रखा है, इसके पीछे उनकी मंशा क्या है। शायद उन्हें भी अंदाज़ा हो चुका है कि आने वाले चुनाव में दिल्ली की जनता भाजपा को एमसीडी से बाहर करने वाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − 4 =