आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ के.बी. सिंह और अनुनीत कौर कांग्रेस में शामिल

रिपोर्ट :-नीरज अवस्थी
नई दिल्ली:- दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संचार विभाग के अध्यक्ष और पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल जेल में बंद अपराधी सुकेश चंद्रशेखर द्वारा अपने खिलाफ लगाए गए आरोप को खारिज करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं कि आम आदमी पार्टी को 50 करोड़ रुपये और जेल में बंद मंत्री सत्येंद्र जैन (जिनके पास जेल विभाग भी था) को 10 करोड़ रुपये “संरक्षण” के रूप में दिए गए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में सुकेश के आरोपों को नकारते हुऐ अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए लाई-डिटेक्टर टेस्ट कराने की उनकी मांग को स्वीकार करना चाहिए।


अनिल भारद्वाज ने कहा कि केजरीवाल ने एमसीडी में भ्रष्टाचार को खत्म करने के वादे के साथ दिल्ली नगर निगम के चुनावों में अपनी 10 गारंटी दी है लेकिन केजरीवाल को जवाब देना चाहिए कि क्या उन्होंने चंद्रशेखर से 50 करोड़ रुपये लिए है, अगर वे इमानदार है तो केजरीवाल ने लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने से स्वीकार क्यों नहीं किया? उन्होंने कहा कि केजरीवाल के पास बहाने खत्म हो गए हैं क्योंकि उन्होंने मुख्यमंत्री के रूप में 8 साल दिल्ली के विकास को वाधित किया तथा जनता से किए वादों पर झूठ बोला। उन्होंने कहा कि केजनरीवाल ने लोगों को गुमराह करने के लिए केवल झूठ में लिप्त रहे।
 
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. के.बी. सिंह और उनकी पत्नी अनुनीत कौर का कांग्रेस पार्टी में स्वागत करते हुए श्री अनिल भारद्वाज ने कहा कि आप में ईमानदार लोगों का दम घुट रहा है, क्योंकि केजरीवाल का एकमात्र एजेंडा भ्रष्टाचार को बढ़ावा देना और अवैध सौदों से पैसा कमाना है। जिसे वह अपने सभी मंत्रियों और विधायकों को अपने प्रॉक्सी के रूप में इस्तेमाल कर रहे है। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नेता भाजपा और आप को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं क्योंकि वे राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को मिल रही देशव्यापी प्रशंसा से प्रेरित हैं।
 
 
डॉ. केबी सिंह और उनकी पत्नी अनुनीत कौर ने कहा कि आम आदमी पार्टी लोगों के लिए कोई उद्देश्यपूर्ण काम किए बिना एक दिशाहीन पार्टी बन गई है, क्योंकि लोग केवल जुमले नहीं चाहते हैं, बल्कि सुशासन का लाभ चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार द्वारा गतिशील नेतृत्व से भी प्रभावित है और दिल्ली में कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करेंगे। इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव श्री सी.पी.मित्तल, विधिक एवं मानवाधिकार विभाग के चैयरमेन एडवोकेट सुनील कुमार और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया एवं कम्युनिकेशन के वाईस चैयरमेन श्री अनुज आत्रेय भी मौजूद थे।
 
अनिल भारद्वाज ने कहा कि अगर दिल्ली दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक है, तो यह केजरीवाल सरकार की निष्क्रियता और अक्षमता के कारण है। उन्होंने पूछा कि उनकी सरकार ने कूड़े के लैंडफिल को साफ करने के लिए कोई कदम क्यों नहीं उठाया? उन्होंने कहा कि पहली बार नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने दिल्ली सरकार पर लैंडफिल में कचरा साफ नहीं करने के लिए 900 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है, जो केजरीवाल की विफलता और कुशासन को उजागर करता है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने दिल्ली को नशे की राजधानी बनाने के लिए शराब के कारोबार के निजीकरण के लिए हजारों करोड़ रुपये का कमीशन लिया, जिसके बारे में सीबीआई जांच कर रही है, और ईडी ने कई गिरफ्तारियां की हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल के राज में सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर खराब हो चुका है  और सरकारी अस्पतालों में बुनियादी ढांचा भी जर्जर स्थिति में है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार की भ्रष्ट नीतियों की वजह से आज कई सड़के टूटी पड़ी है तो कई नालें बन्द पड़े है जिसके कारण शहर में गन्दगी और प्रदुषण फैला।
 
भारद्वाज ने कहा कि केजरीवाल सरकार द्वारा व्यापारियों और दुकानदारों को परेशान और शोषण किया जा रहा है और उन्होंने रेहड़ी-पटरी वालों के लिए वेंडिंग जोन स्थापित करने की जहमत तक नहीं उठाई, लेकिन अब वे उनकी मदद करने का वादा कर रहे हैँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − three =