14 नवंबर को मनाएंगे काली दिवाली ,पंजाब के गांव गांव में फूंकी जाएगी मोदी सरकार की अर्थी :पंधेर


रिपोर्ट :- कुलजीत सिंह

जंडियाला गुरु:-किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी पंजाब का रेल रोको आंदोलन आज 45 वें दिन में दाखिल हो गया। राज्य सचिव सरवन सिंह पंधेर ,सविंदर सिंह चुताला ,और गुरलाल सिंह पंडोरी ने संबोधित करते हुए कहा कि जत्थेबंदी द्वारा स्टेशन के नीचे खुली ग्राउंड में मोर्चा जारी रखा जाएगा।

किसान नेताओं द्वारा केंद्र सरकार द्वारा पास किये गए तीन कृषि बिलों के विरोध में14 नवंबर को काली दिवाली मनाने का फैसला लिया गया है। पंजाब में गांव स्तर पर पूरे पंजाब में मोदी सरकार की अर्थी फूंकी जाएंगी ।किसान ,मज़दूर ,कर्मी और आम लोगों को घरों पर काले झंडे लगाकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने की अपील की ।जंडियाला प्लेटफॉर्म पर मोर्चा तबदील कर नज़दीक खुली जगह शिफ़्ट किया गया। जत्थेबंदी द्वारा लोगों के हित को देखते हुए कि केंद्र अब कोई बहाना ना बनाये इसके चलते रेलवे ट्रैक को खाली कर दिया गया।


पंजाब के व्यापारियों का नुकसान करने के लिए केंद्र सरकार पंजाबियों की आर्थिक नाकेबंदी कर रही है ।जबकि केंद्र सरकार अपने भाजपा नेता ज्याणी जैसे नेताओं की नही सुन रही तो किसानों के साथ कैसे बातचीत करेंगे। केंद्र द्वारा लिखित बुलावे से पहले बातचीत करने की बातें भारत की जनता को गुमराह करने वाली हैं। इस मौके पर गुरप्रीत सिंह गोपी ,हरविंदर सिंह खजाला ,हरबीर सिंह तलवाड़ा ,गुरप्रीत सिंह ,सोहन सिंह ,अशोक कुमार ,परमिंदर सिंह ,परमजीत सिंह ,सतनाम सिंह ,कुलबीर सिंह काहलों ,रछपाल सिंह ,अजैब सिंह चीमाखुड्डी ,बलदेव सिंह ,जोगिंदर सिंह ,जसबीर सिंह हाज़िर थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + 16 =