फ़ूड सप्लाई विभाग के कारनामा बिना ज़मीन स्तर जांच किये बगैर काटे गरीब और जरूरतमंद लोंगो के काटे लाभपात्री वाली लिस्ट से नाम

रिपोर्ट :- कुलजीत सिंह


जंडियाला गुरु:-एक तरफ पंजाब सरकार 2 रुपये किलो वाली सस्ती गेंहू हर पंजाब के गरीब और जरूरतमंद को पहुंचाने का दावा कर रही है ।वही दूसरी तरफ जंडियाला गुरु सेंटर पर फ़ूड सप्लाई विभाग के अधिकारियों के कारनामों को देखा जाए तो यहां पांव तले जमीन खिसक जाती है ।गांव गहरी मंडी के उन गरीब लोगों के घरों के हालात अगर देखे जाए तो उनको देखकर आपका मन भी भावुक हो जाएगा। जिनमे विधवा औरतें ,मज़दूरी करने वाले लोग भी शामिल हैं ।इन परिवारों की आर्थिक हालात इतने दयनीय हैं कि इनके लिए दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करना भी मुश्किल है इन लोगों ने बताया कि उनको पिछली बार गेहूं मिली लेकिन इस बार नही।


इससे साफ जाहिर है कि जंडियाला सेंटर पर तैनात फ़ूड सप्लाई विभाग के अधिकारी कितने ईमानदार है जो ज़मीन स्तर पर जांच किये बगैर ही लाभपात्री का लिस्ट में से नाम काट देते हैं।
भले ही केंद्र सरकार ने नाम काटे जाने की शिकायतों पर विराम लगाने के लिए वन नेशन वन कार्ड योजना पंजाब में भी लागू की है जिसके तहत कोई भी लाभपात्री आधार कार्ड से अपने राशन का कोटा भारत मे कहीं से भी ले सकता है
वही इसके उलट जंडियाला सेंटर में फ़ूड सप्लाई विभाग के अधिकारी ऑनलाइन रिकॉर्ड से छेड़छाड़ के साथ ,गेहूं के बोरे में कम वजन से गरीबों का शोषण कर अपने जेबें भर रहें है।


इस मामले में यह भी खास बात है कि फ़ूड सप्लाई विभाग के इंस्पेक्टर से डायरेक्टर तक कोई भी अधिकारी फोन उठाकर इस बात से पर्दा नही उठाना चाहता कि आखिर इस घपले पीछे क्या राज है जो बड़े बड़े अधिकारी पत्रकार द्वारा फोन करने के साथ मेसेज करने पर भी जवाब नही देते ।
गांव के गरीब और जरूरमंद परिवार जिनमे कुलदीप कौर ,बलविंदर कौर ,जयराज सिंह ,मनप्रीत कौर समेत ने केंद्र व पंजाब सरकार से मांग की है कि ऐसे भृष्टाचार करने वाले अधिकारियों की विजिलेंस के साथ सी बी आई जांच कराई जाए।
गरीबो को हक़ दिलाने के लिए शिरोमणि अकाली दल बादल करेगी सँघर्ष :,भीरी
इस मामले पर गहरी मंडी के पूर्व सरपंच और अकाली नेता मनजिंदर सिंह भीरी ने कहा कि गरीबों और जरूरतमंद लोगों के साथ बेइंसाफी और धक्केशाही बर्दाश्त नही करेंगे ।उनको न्याय दिलाने के लिए वह उच्च अधिकारियों के कार्यलयों के आगे धरने भी देंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 9 =