सोशल मीडिया” पर लाइक का झांसा “करोड़ो का ‘धोखा’2 महीने में ठगे करीब 10 करोड़, 7 गिरफ्तार, 2 आका बैठे दुबई में

रिपोर्ट :- प्रिंस बहादुर सिंह

नई दिल्ली :-  सोशल मीडिया पर हजार लगाइए और लाखों कब आई है इस लालच में न जाने कितने लोग अपने गाढ़ी कमाई लुटा चुके हैं साउथ वेस्ट डिस्टिक के साइबर सेल ने एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया है जो एक ऐप के जरिए ऑनलाइन लोगों को पैसे कमाने की स्कीम देता था आखिर कैसे करता था यहां ऐप काम और क्यों लोग इसके जाल में फंसते चले गए यह हम आपको इस रिपोर्ट में दिखा रहे हैं।

दिल्ली के साथ पूरे देश भर में सोशल मीडिया पर लाइक से घर बैठे लाखों कमाने का झांसा देकर करोड़ों रुपए का धोखा हुआ है। “लव लाइक” नाम के मोबाइल एप्लीकेशन की मदद से ठगों ने सोशल मीडिया यूजर्स को घर बैठे हजारों लाखों कमाने का झांसा दिया था। उनको सिर्फ इतना काम करना था कि फेसबुक, इंस्टाग्राम चलाते हुए कुछ पोस्ट को लाइक करना था, जिसके बाद उसे शेयर करना था। हालांकि पैसा कमाने से पहले उनको कुछ रकम (10 से 50 हज़ार के बीच) जमा करानी होती थी। सिर्फ इतना काम करने पर उनके अकाउंट में पैसे क्रेडिट हो जाते थे। हालांकि यह पैसे उनके बैंक अकाउंट में नहीं, बल्कि मोबाइल एप्लीकेशन वाले एकाउंट में क्रेडिट होते थे, जो यूजर यह समझते थे कि जरूरत पड़ने पर वह उसे निकाल सकते हैं। 

जब यूजर्स ने पैसे निकालना शुरू किया तो पता चला की वह सिर्फ उनको दिखाई देने वाला पैसा है, जिसे वह निकाल नहीं सकते हैं। इसके बारे में जब तक वह आगे कुछ पता करते, तब तक ठग मोबाइल एप बंद करके भाग चुके थे। पुलिस का कहना है, शुरुआती जांच में दिल्ली पुलिस को लगभग 10 करोड़ रुपए के चीटिंग का पता चला है और अंदेशा है किस चीटिंग की यह रकम और काफी ज्यादा हो सकती है क्योंकि फिलहाल दिल्ली पुलिस ने दिल्ली एनसीआर के कुछ अकाउंट को ही सीज किया है पुलिस ने बताया कि साउथ-वेस्ट जिले की पुलिस को ट्वीट करते हुए एक सोशल मीडिया यूजर ने ट्विटर पर शिकायत दी थी, जिसमें उसने लाइक एप के बारे में बताया था। 

पुलिस को पता चलने के बाद साइबर सेल की टीम बनाई गई, जिन्होंने पूरे मामले की जांच शुरू की। इसके बाद आरोपियों को साउथ-वेस्ट जिले से ही गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने सात आरोपी पकड़े हैं, जिसमें से कुछ आरोपियों के इंपोर्ट-एक्सपोर्ट बिजनेस थे। आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि इस पूरी साज़िश का सरगना दुबई में रहता है, जिसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

पुलिस के मुताबिक,  शुरुआत में इन लोगों ने कुछ युटयुबर को पैसे लौट आए हैं पैसा मिलने के बाद वह यूट्यूब पर इस ऐप का प्रमोशन करने लगा जैसे लोगों को लगा की यह एप्लीकेशन सही में काम करता है और घर बैठे पैसे कमाने का इससे बेहतर जरिया भला क्या हो सकता है हेलो आंख मूंद केस में पैसा लगाने लगे।

घर बैठे पैसा कमाने की चाहत है न जाने कितने लोगों को बर्बाद कर दिया महज चंद दिनों की जांच में है करोड़ों के चीटिंग का खुलासा हुआ है लिहाजा अब दिल्ली पुलिस दुबई में बैठे हैं उन दो आकाओं को पकड़ने की तैयारी में लगी है जो इस पूरे रैकेट के मास्टरमाइंड है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 14 =