फास्टैग नहीं तो कोई टेंशन नहीं नगद कर सकेंगे भुगतान

रिपोर्ट :- दौलत शर्मा

नई दिल्ली :-1 जनवरी, 2021 से टोल प्लाजा की सभी कैश लेन को भी FASTag लेन में बदला जाएगा. 1 जनवरी से किसी भी टोल प्लाजा पर नकद भुगतान नहीं होगा. ऐसे में अगर आपके पास फास्टैग नहीं है तो आपकी गाड़ी टोल से पास नहीं हो पाएगी. अगर गाड़ी निकालनी है तो एक खास सर्विस का इस्तेमाल करना होगा. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने टोल प्लाजा पर प्री-पेड टच-एंड-गो कार्ड पेश करेगा. टोल प्लाजा पर भीड़भाड़ को रोकने के लिए 1 जनवरी से सभी हाइब्रिड लेन पर प्री-पेड कार्ड सुविधा शुरू की जाएगी।


1 जनवरी से टोल प्लाजा पर कोई नकद लेनदेन नहीं होगा. यह सुविधा धीरे-धीरे सभी लेन को डेडिकेटेड फास्टैग लेन में बदल दिया जाएगा. जिनके पास फास्टैग नहीं है, उन्हें दोगुनी टोल राशि का जुर्माना देना होगा. हालांकि, ये प्री-पेड कार्ड नकद लेनदेन के विकल्प के रूप में काम करेंगे।

अगर आपकी गाड़ी पर FASTag नहीं लगा है तो टोल प्लाजा पर पॉइंट-ऑफ-सेल्स (PoS) से इन प्री-पेड कार्ड को खरीद सकते हैं. फास्टैग की जगह इन कार्ड्स का इस्तेमाल करने पर टोल पर दोगुनी राशि नहीं वसूली जाएगी. अच्छी बात यह है कि फास्टैग होने पर भी इस प्री-पेड कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं. फास्टैग ब्लैकलिस्टेड या फेल होने पर या फिर रिचार्ज करना भूल जाने पर भी प्री-पेड कार्ड सर्विस का फायदा उठा सकते हैं।

भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड ने टेंडर के लिए बोलियां मंगाई हैं. जल्द ही इस प्रणाली को शुरू करने की तैयारी है. प्री-पेड कार्ड की खरीद और रिचार्ज के लिए हर टोल प्लाजा पर दो पॉइंट-ऑफ-सेल्स बनाए जाएंगे. प्री-पेड कार्ड खरीदने के बाद ग्राहक इसे नेट बैंकिंग या PoS पर भी रिचार्ज कर सकते हैं. मौजूदा स्थिति में हर टोल प्लाजा पर नकद लेनदेन के लिए दो लेन हैं, लेकिन 1 जनवरी से ये लेन भी बंद होंगी.फास्टैग सिस्टम के जरिए आप टोल प्लाज पर बिना रुके अपना टोल टैक्स भर सकते हैं. इसके लिए आपको अपने वहान पर फास्टैग लगाना होगा. आप यह टैग किसी भी ऑफिशियल टैग जारीकर्ता या बैंक से खरीद सकते हैं. कुछ इलाकों में फास्टैग पेट्रोल पंप पर भी मिल रहे हैं।

टोल प्लाज पर ऑटोमैटिक ट्रांजेक्शन के लिए वाहनों की विंडस्क्रीन पर फास्टैग लगाया जाता है. इसमें रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन लगा होता है. वाहन के टोल पर पहुंचते ही प्लाज पर लगा सेंसर आपकी गाड़ी पर लगे फास्टैग को स्कैन करता है. इसके बाद फास्टैग अकाउंट से टोल का पेमेंट हो जाता है।

फास्टैग लगे वाहन जैसे ही टोल प्लाजा को पार करेंगे, वैसे ही फास्टैग अकाउंट से पैसे कटने की जानकारी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर SMS के जरिए मिलेगी. फास्टैग अकाउंट में पैसे खत्म होने पर इसे फिर से रिचार्ज करना होता है. फास्टैग की वैलिडिटी 5 साल तक होगी. पांच साल के बाद फिर से नया फास्टैग लगाना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + five =