दिल्ली में हुई वैक्सीन की कमी, फाइजर और मॉडर्ना ने वैक्सीन देने से किया इनकार कहा केवल केंद्र सरकार से करते हैं डील

रिपोर्ट :- शिल्पा

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के दर में तो कमी देखी जा रही है लेकिन साथ ही दिल्ली में वैक्सीन की भी कमी है। दिल्ली में कुल 400 वैक्सीनेशन सेंटर युवाओं के लिए और 650 वैक्सीनेशन सेंटर 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगो के लिए बनाए गए हैं हां पर लोग वैक्सीन लगवा सकते हैं।

लेकिन दिल्ली सरकार का कहना है कि केंद्र सरकार की बदइंतजामी की वजह से युवाओं के लिए जो सेंटर्स बनाए गए थे वह सभी बंद हो चुके हैं,और 45 साल से ऊपर वाले उम्र के वैक्सीनेशन सेंटर पर केवल को भी कोविशील्ड वैक्सीन ही अभी उपलब्ध है। दिल्ली सरकार का कहना है कि केंद्र सरकार वैक्सीन उपलब्ध कराने में पूरी तरीके से असफल रही है। दिल्ली सरकार ने युवाओं के लिए केंद्र सरकार से वैक्सीन मांगी तो केंद्र ने कहा केवल 4 लाख वैक्सीन ही वह देंगे और जब दिल्ली सरकार ने अलग-अलग कंपनियों से संपर्क किया तो फाइजर और मॉडर्न आने वैक्सीन देने से साफ इनकार किया कहा वह केवल केंद्र सरकार से ही डील करते हैं और साथ ही यह भी कहा कि वह किसी भी राज्य सरकार को वैक्सीन नहीं देंगे।

मनीष सिसोदिया और सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा सारी गलती है केंद्र सरकार की क्योंकि अन्य कई देशों ने फाइजर मॉडर्ना और स्पूतनिक वैक्सीन को बहुत पहले ही मंजूरी दे दी गई है और लगनी भी शुरू हो चुकी है लेकिन भारत में केंद्र सरकार ने ना ही फाइजर को और ना ही मॉडल ना ही को मंजूरी दी है, केंद्र सरकार केवल देश में बनी कोवीशिल्ड और कोवैक्सिन को ही लगाने की मंजूरी दी है लेकिन यह वैक्सीन भी भारत में पूरी तरह से उपलब्ध नहीं है जिस वजह से कई राज्यों में युवाओं के लिए बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो चुके हैं और कई राज्यों में तो युवाओं के लिए वैक्सीनेशन सेंटर अभी तक खुले भी नहीं है वैक्सीन की कमी की वजह से, राजधानी दिल्ली में वैक्सीन की कमी की वजह से युवाओं के लिए बनाए गए सभी सेंटर को बंद करना पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 4 =