लंबी लड़ाई में जीत की राह पर है दिल्ली में कई महीने के संघर्ष में दिल्ली में कई उतार-चढ़ाव आए

रिपोर्ट:- प्रियंका झा

नई दिल्ली:- लंबी लड़ाई में जीत की राह पर है दिल्ली में कई महीने के संघर्ष में दिल्ली में कई उतार-चढ़ाव आए 6 महीने के संघर्ष में दिल्ली में कई उतार-चढ़ाव आए। एक समय संक्रमण करीब 33 फ़ीसदी पहुंच गई थी यह संक्रमण चरम पर पहुंचने के बाद स्थिति सुधरी तो संक्रमण दर गिरकर 5 फीसदी लेकिन एक बार फिर से संक्रमण बढ़ने लगा है।
10 से 20 अगस्त के बीच में आए मामलों की तुलना में पिछले महीने अंतिम 11 दिनों में 55 से ज्यादा मामले सामने आए हैं हालांकि डॉक्टर कहते हैं कि घबराने की जरूरत नहीं है और ना कि खिलाफ लड़ाई अभी लंबी चलेगी जीत जरूरी होगी।

करीब एक तिहाई आबादी कोरोना से संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुकी है इसलिए पहले की तरह मामले बढ़ने की आशंका नहीं है अगले कुछ महीने में एंटीबॉडी पॉजिटिव लोगों का आंकड़ा 60 ईसवी के आसपास पहुंच सकता है
बरहा हरी मिर्ची विकसित होने तक लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है।
एम्स के कम्युनिटी मेडिसिन के प्रोफेसर डॉ संजय राय ने कहा कि दिल्ली में सत्य 30 दिन लोकसन कमेंट से बचे हुए हैं जिन्हें संक्रमण होने का खतरा है इसलिए मामले थोड़े पढ़ सकते हैं।

उन्होंने कहा कि जिन्हें पहले संक्रमण हो चुका है उन्हें दोबारा संक्रमण नहीं देखा जा सकता पहले मध्य दिल्ली दक्षिण पूर्व पूरी दिल्ली से मानवीय अधिकारों थे अभी दक्षिण पश्चिमी दिल्ली पश्चिमी दिल्ली में मामले बढ़ रहे हैं। पहले तीन चार महीनों तक ज्यादातर लोगों ने घर के कामकाज के लिए घरेलू सहायकों कोई मदद लेना छोड़ दिया था लेकिन आप फिर से लो घरेलू सहायकों की मदद ले रही है इसलिए एकमात्र यह भी कारण है कोरोनावायरस को बढ़ने के लिए लेकिन डरने की बात नहीं है क्योंकि जाते लोगों में हल्का संक्रमण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × three =