दिल्ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन की नगर निगम सदस्यता हुई खत्म

रिपोर्ट:- प्रियंका झा

नई दिल्ली:- दिल्ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन की नगर निगम की सदयस्ता खत्म हुई लेकिन पूरी प्रक्रिया में हिंसा का कोई जिक्र नहीं किया गया। दिल्ली हिंसा के प्रमुख आरोपी ताहिर हुसैन की पार्षद के रूप में नगर निगम सदस्यता खत्म कर दी गई है। यह फैसला पूर्वी दिल्ली नगर निगम की बुधवार को हुई बैठक में एक प्रस्ताव पास करके लिया गया। ताहिर हुसैन की सदस्यता खत्म करने के लिए निगम की बैठकों में उसके लगातार भाग न लेने को आधार बनाया गया है। इस मामले में पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने एक बयान भी जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि 26 अगस्त को ताहिर हुसैन की सदस्यता रद्द करने का फैसला लिया गया।

लेकिन सदन से उसकी सदस्यता खत्म करने की पूरी प्रक्रिया में दिल्ली हिंसा का कहीं कोई जिक्र नहीं किया गया है। ताहिर हुसैन की सदस्यता खत्म करने की सूचना उपराज्यपाल अनिल बैजल को भेज दी गई है। दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट में ताहिर हुसैन पर आईबी अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या करने, हत्या की साजिश रचने, हिंसा के लिए लोगों को उकसाने और हिंसा के लिए अवैध तरीके से धन एकत्रित करने का आरोप लगाया है।

साथ ही पूर्वी दिल्ली के नगर निगम महापौर निर्मल जैन ने बताया कि ताहिर हुसैन लगातार बैठकों में भी अनुपस्थित चलते नजर आ रहे हैं उन्होंने कहा कि अभी तक ताहिर हुसैन ने एक बैठक में हिस्सा नहीं लिया और अनुपस्थित रहे। इस दौरान जनवरी, फरवरी, जून-जुलाई और अगस्त महीने में पांच बैठ गई थी जिसमें से वह एक भी बैठक में हिस्सा नहीं थे।

लेकिन वे इनमें से एक में भी उपस्थित नहीं हुए। नगर निगम एक्ट के नियम 33(2) के मुताबिक निगम की लगातार तीन बैठकों में बिना सूचना के अनुपस्थित होने सदस्यता
खत्म करने का आधार होता है इसी नियम के तहत उनकी सदस्यता खत्म की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 − one =