डीएमआरसी को वन विभाग का नोटिस, दिल्ली मेट्रो ने चौथे चरण का काम रोका

रिपोर्ट:- दौलत शर्मा

नई दिल्ली:-दिल्ली वन विभाग ने दिल्ली मेट्रो रेल निगम को जनकपुरी पश्चिम- आर के आश्रम मार्ग गलियारे के निर्माण के दौरान उन दिशानिर्देश का कथित रूप से उल्लंघन करने को लेकर नोटिस जारी किया। जिसके बाद चौथे चरण का काम रोक दिया गया।

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने वन विभाग के नोटिस के बाद गुरुवार को अपने चौथे चरण के तहत केशोपुर-पीरागढ़ी पट्टी पर काम रोक दिया। वन विभाग ने डीएमआरसी पर वन संरक्षण कानून, 1980 के उल्लंघन का आरोप लगाया।

डीएमआरसी के कार्यकारी निदेशक अनुज दयाल ने कहा, ‘हमने केशोपुर-पीरागढ़ी पट्टी पर काम रोक दिया है और सभी आवश्यक मंजूरियां मिलने के बाद काम फिर शुरू करेंगे।’ पश्चिमी संभाग के उप वन संरक्षक के अनुसार डीएमआरसी ने विकास पुरी से पीरागढ़ी चौक के बीच रोड नंबर 26 की 5.34 किलोमीटर लंबी पट्टी पर तथा नजफगढ़ नाले के 1,300 वर्ग मीटर के हिस्से पर काम के लिए जरूरी अनुमति नहीं ली, जिसे वन्य क्षेत्र माना जाता है।

वन विभाग ने भेजा था नोटिस
वन विभाग के अनुसार फरवरी से लेकर अगस्त तक कई नोटिस भेजकर डीएमआरसी को संबंधित खंडों पर ‘कोई निर्माण कार्य नहीं करने को कहा गया लेकिन उसने निर्देश नहीं माने और रोड नम्बर 26 पर काम रोकने से इनकार कर दिया, इस तरह से उसने प्रथम दृष्टया वन संरक्षण अधिनियम, 1980 का उल्लंघन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × five =