जहांगीरपुरी थाना पुलिस ने महज 48 घंटे के अंदर जहांगीरपुरी की मर्डर मिस्ट्री को सुलझाया

रिपोर्ट -संजीव सिंह

नई दिल्ली –जहांगीरपुरी थाना पुलिस ने महज 48 घंटे के अंदर जहांगीरपुरी की मर्डर मिस्ट्री को सुलझाया.मंगलवार शाम जहांगीरपुरी पुलिस को एक कॉल प्राप्त हुई ,कि सी ब्लॉक एक ढाबे के पास सड़क किनारे एक व्यक्ति घायल बेसुध पड़ा है. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायल को जहांगीरपुरी के ही बाबू जगजीवन राम अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. मृतक की पहचान संतोष 45 वर्ष के रूप में हुई मृतक संतोष के सीने में चाकू की नोट चोट के निशान थे और मृत व्यक्ति जहांगीरपुरी के ही के ब्लॉक की झुग्गियों का रहने वाला था .जहांगीरपुरी थाना पुलिस ने इस मामले में मामला दर्ज किया और जांच में जुट गई।

इस ब्लाइंड मर्डर केस को ध्यान में रखते हुए जहांगीरपुरी थाना के एसएचओ सुरेंद्र संधू ने एक टीम का गठन किया है जिसमें इंस्पेक्टर अमित कुमार ऐसा हिमांशु एएसआई कुलदीप एसआई रवि एसआई ब्रजभूषण हेड कांस्टेबल को लिया .थाना जहांगीरपुरी की टीम ने इस मामले में छानबीन शुरू की परिवार के सदस्यों से भी बात की गई ,तो उन्होंने मृतक संतोष के परिवार ने भी हत्या के इस मामले में किसी के भी शामिल होने का संदेह नहीं जताया।

जहांगीरपुरी थाना पुलिस ने इस मामले में सुराग ढूंढने की कोशिश की और सफल भी रहे पुलिस ने इस मामले में अपने सूत्रों को भी लगाया हुआ था. गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस को जानकारी मिली जिसके आधार पर दो आरोपी अनुज सिंह और रिंकू राठी को इस मामले में गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के दौरान अनुज और रिंकू राठी ने इस बात का खुलासा है कि वे नशा करने के उद्देश्य से राहगीरों से लूटपाट और छीना झपटी करते हैं।

बीते मंगलवार की शाम को भी आरोपी अनुज ने मृतक संतोष से लूटपाट और छीना झपटी करने की कोशिश की जिसका कि संतोष ने विरोध किया और अनुज सिंह ने संतोष के सीने में चाकू से दो बार हमला किया और हमला करने के बाद वह मौके से फरार हो गए. फिलहाल पुलिस की पूछताछ लगातार जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − 2 =