आर्टिकल 370 के हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में पहली बार DDC चुनाव, जानें कुछ खास बातें

रिपोर्ट :- दौलत शर्मा

नई दिल्ली:-जम्मू और कश्मीर में आर्टिकल 370 के हटने के बाद और केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद जिला विकास परिषद (DDC) चुनाव पहली बार हो रहा है। आज चुनाव का पहला चरण है। पहले चरण की 43 सीटों पर आज 28 नवंबर को वोटिंग हो रहे हैं। मतदान सुबह 7 बजे से दोपहर 2 बजे तक होंगे। 43 निर्वाचन क्षेत्रों में से 25 कश्मीर में और 18 जम्मू क्षेत्र में हैं। जम्मू-कश्मीर के कुल सात लाख मतदाता 1,427 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। कुल 1,427 उम्मीदवारों में से 296 डीडीसी चुनाव लड़ रहे हैं, जिनमें से 124 जम्मू संभाग की 18 सीटों और कश्मीर की 25 सीटों के लिए 172 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं।

राज्य निर्वाचन आयुक्त केके शर्मा ने कहा है कि चुनाव के पहले चरण को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए कुल 2,146 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि डीडीसी के चुनाव लड़ने वाले कुल 296 उम्मीदवारों में से 89 महिलाएं हैं। कुल 280 निर्वाचन क्षेत्रों में से 43 निर्वाचन क्षेत्र डीडीसी के चरण एक के चुनाव में शनिवार को हो रहे हैं।

डीडीसी चुनाव और पंचायत उपचुनाव, आठ चरणों होगा। जिसका आखिरी दिन 19 दिसंबर है। मतगणना 22 दिसंबर को होगी।जम्मू कश्मीर में जिला विकास परिषद चुनाव का पहला चरण शनिवार 28 नवंबर को हो रहाा है। दूसरा चरण 1 दिसंबर, तीसरा चरण 4 दिसंबर , चौथ फेज 7 दिसंबर, पांचवां चरण 10 दिसंबर, छठा फेज 13 दिसंबर, सातवां चरण 16 दिसंबर और आठवां फेज 19 दिसंबर को होगा।

BJP बनाम विपक्षी पार्टियां में मुकाबला

इस चुनाव में राज्य की सभी विपक्षी पार्टियां एक साथ आ गई हैं। चुनाव में कड़ा मुकाबला बीजेपी और विपक्षी पार्टियों में है। जम्मू और कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी), जम्मू और कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) और कांग्रेस पार्टी सहित सारे विपक्षी पार्टी एक साथ चुनाव लड़ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × four =