किसानों का संसद को घेरने का प्लान?

रिपोर्ट :- दौलत शर्मा

नई दिल्ली :-किसान और सरकार के बीच लगातार खींचातानी चल रही है कृषि बिल 2020 को लेकर किसान इस बिल को हटाना चाहते हैं मगर सरकार जो है अभी भी इस बिल के बारे में किसानों को समझाने में लगी है जिसके चलते किसानों ने अब दिल्ली चलो अभियान शुरू कर दिया है लगातार 10 दिन से यह अभियान चल रहा है और किसान दिल्ली बॉर्डर ऊपर अपना डेरा जमा के बैठे हैं। उनकी लगातार सरकार से मांग है कि इस बिल को निरस्त किया जाए और किसानों की आवाज सुनी जाए अभी तक 4 चरणों की बैठक में सरकार और किसानों के बीच के मतभेद खत्म नहीं हुए हैं पांचवें चरण की बात अभी जारी है जिसके बीच चिल्ला बॉर्डर पर बैठे प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि अगर पांचवे चरण में भी सरकार उनकी नहीं सुनती है।

या उनके बीच के मतभेद खत्म नहीं होते हैं वह संसद का घेराव करेंगे अपनी मांगों के लिए दिल्ली की ओर और अग्रसर बढ़ेंगे किसानों का साफ कहना है कि सरकार इस बिल को हटाए नहीं तो हम अब संसद का घेराव करेंगे अगर सरकार नहीं सुनती है तो अभी तो किसान अपने प्रदर्शन को लेकर दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर बैठे हैं अब देखना यह है पांचवें चरण की बातचीत किस नतीजे पर पहुंचती है और किसानों का अगला कदम क्या होगा क्या सही में संसद को घेर लेंगे किसान या फिर बॉर्डर पर सुरक्षा इंतजाम और भी सख्त कर दिए जाएंगे अब यह सब बात इस पांचवें चरण की बातचीत पर निर्भर करती है कि आगे क्या होगा यह मतभेद खत्म होंगे या फिर किसानों सरकार के बीच के मतभेद और बढ़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × one =