आपका फोन चुराने से पहले सोचेगा चोर, मोदी सरकार का यह ऐप देता है सुरक्षा

रिपोर्ट :- शिल्पा

नई दिल्ली : कई बार लोगो का फोन कोई चुरा लेता है या फिर कई बार लोगो का फोन गुम हो जाता है और लोगो इसी वजह से परेशान हो जाते है क्योंकि उनको पता नही होता फोन दुबारा कैसे पाया जाए। कई लोग तो पुलिस में शिकायत भी नही करवाते यह सोचके की कौन पुलिस स्टेशन जाएगा बार बार और गुम हुए फोन को पाने की कोशिश भी नही करते और चोर चोरी किए हुए फोन को इस्तेमाल करते रहते है।

लेकिन अगर आपका भी फोन कही गुम हो गया है या चोरी हो गया है तो मोदी सरकार का एक ऐप है। इस ऐप के सहारे अपना खोया हुआ फोन या चोरी फोन दुबारा पा सकते है। कुछ महीनो पहले मोदी सरकार में टेलीकॉम मंत्री रहे रविशंकर प्रसाद ने महाराष्ट्र में एक वेब पोर्टल लॉन्च किया था। इस वेब पोर्टल के जरिए आप अपने चोरी हुए फोन की शिकायत दर्ज करा सकते है। यह प्रोजेक्ट शुरुआत में सिर्फ महाराष्ट्र के लिए था लेकिन मोदी सरकार ने वादा किया था इसे पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा।

अगर आपका फोन चोरी हो गया है तो आपको इसके लिए एक FIR फाइल करनी होगी। FIR करने के बाद हेल्पलाइन नबर 14422 के जरिए टेलीकॉम डिपार्टमेंट को सूचना देनी होगी। जैसे आप पुलिस में शिकायत कर्ज कराएंगे, वैसे ही टेलीकॉम डिपार्टमेंट आपके फोन का आईएमईआई नंबर ब्लॉक कर देगा। इसके बाद अगर कोई आपके फोन पर किसी भी मोबाइल नेटवर्क का इस्तेमाल नही कर पायेगा, वह जैसे ही कोई नेटवर्क का इस्तेमाल करने के बारे में सोचेगा।

IMEI नंबर की मदद से आपका सेल्यूलर ऑपरेटर उस फोन को नेटवर्क का इस्तेमाल करने से रोकेगा। टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने साल 2017 के जुलाई के महीने में C- DoT को मोबाइल ट्रेनिंग प्रोजेक्ट सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर यानी CEIR सौंपा था। CEIR आईएमईआई नंबरों कदाताबा है। CEIR का उद्देश्य मोबाइल की चोरी पर रोक लगाना था। CEIR का सेट ऐप लगाने के लिए मोदी सरकार ने 15 करोड़ रुपए आवंटित किया था। CEIR सिस्टम आपका फोन चोरी होने के बाद आपके फोन में मौजूद सभी सेवाओं को ब्लॉक कर देता है किसी की भी फोन का प्रयोग ना कर पाए और अगर चोर आपके फोन में नया सिम लगाता भी है तो वह किसी का भी होगा। IMEI नंबर बदलने का भी उसे कोई फायदा नही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + eight =